BHU की महिला शिक्षिका ने कलां सकायं प्रमुख पर लगाये गंभीर आरोप

काशी  हिंदू विश्‍वविद्यालय एक बार फिर गलत कारणों से चर्चा में है। कला संकाय प्रमुख के खिलाफ  पत्रकारिता एवं जनसंप्रेषण विभाग की महिला शिक्षिका ने गंभीर आरोप लगाए हैं।  बीएचयू के कला संकाय प्रमुख प्रो. कुमार पंकज पर महिला शिक्षक की तहरीर पर एससी-एसटी एक्ट और जान से मारने की धमकी सहित अन्य आरोपों में शनिवार को लंका थाने में मुकदमा दर्ज हुआ है।यह कार्रवाई पत्रकारिता एवं जनसंप्रेषण विभाग की महिला शिक्षिका डॉ. शोभना नर्लिकर की तहरीर पर की गई है। उधर, प्रमुख ने जानबूझकर फंसाए जाने की बात कही है। कहा कि जांच होने के बाद तस्वीर साफ हो जाएगी।  महिला शिक्षिका डॉ. शोभना नर्लिकर का आरोप है कि छह जुलाई को प्रमुख के बुलावे पर उनके कार्यालय जाने पर उन्होंने दुर्व्यवहार किया। जातिसूचक शब्दों का प्रयोग करते हुए गालियां दी और जान से मारने की धमकी भी दी।
इस दौरान वहां मौजूद शिक्षकों में डॉ. ज्ञान प्रकाश मिश्र, स्वर्ण सुमन और अमिता ने भी इस पर आपत्ति जताई और कहा कि इस तरह का दुर्व्यवहार ठीक नहीं है। उधर, लंका पुलिस ने शिक्षिका की तहरीर पर प्रमुख के खिलाफ धमकी के साथ ही एससी-एसटी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। मामले की जांच डिप्टी एसपी अखिलेश सिंह करेंगे। कला संकाय प्रमुख प्रो. कुमार पंकज ने इसे साजिश बताया। कहा कि यह कोई पहला मामला नहीं है जब शिक्षिका ने प्रोफेसर पर मुकदमा दर्ज कराया हो, इसके पहले भी उन्होंने विभाग के ही शिक्षकों, प्रमुखों पर मुकदमा दर्ज कराया है, जिसको हर कोई जानता है।
पूरे मामले से कुलपति को अवगत कराया जा चुका है। जांच होने पर तस्वीर साफ हो जाएगी कि कौन दोषी है |