मुंबई में बारिश का कहर: टूटा 12 साल का रिकॉर्ड, ज्वार आने की आशंका !

मुंबई में शनिवार से ही लगातार बारिश हो रही है। अत्यधिक बरसात के कारण शहर में जगह-जगह जलजमाव हो गया है। बारिश की वजह से आम जनजीवन और यातायात बाधित है। मुंबई में बरसात ने एक दशक से भी पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया है। 26 जुलाई 2005 के बाद आज की बरसात को सबसे भारी और लंबी बारिश बताया जा रहा है। सोशल मीडिया पर #MumbaiRains हैशटैग के साथ आम नागरिक बारिश से जुड़ी तस्वीरें और वीडियो शेयर कर रहे हैं। कुछ लोग बारिश का मजा लेते दिख रहे हैं तो बहुत से लोग इसकी वजह से पेश आ रही दिक्कतों को सार्वजनिक कर रहे हैं। चिंता की बात ये है कि मौसम विभाग के अनुसार शहर में कम से कम अगले 24 घंटे तक बारिश रुकने के आसार नहीं हैं।

मौसम विभाग के अनुसार मंगलवार  को शाम 4.34 बजे के करीब ज्वार आ सकता है। बारिश के कारण समंदर में ऊंची लहरे उठ रही हैं। आम लोगों को ज्वार के दौरान समंदर के किनारे न जाने की सलाह दी जा रही है। मुंबई यातायात पुलिस ने बारिश के कारण आ रहे व्यवधान को देखते हुए आम लोगों के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं।  मंगलवार को उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने ट्वीट करके मुंबई की बारिश की तुलना चक्रवात से की। महिंद्रा ने ट्वीट में कहा कि वो भारत-ऑस्ट्रेलिया बैठक के लिए दिल्ली जा रहे थे लेकिन बारिश के कारण उन्होंने विमान यात्रा की योजना रद्द कर दी है। महिंद्रा ने लिखा, “मैंने अपने ऑस्ट्रेलिया दोस्तों से कहा कि मैं मुंबई में पानी के अंदर हूं।”

क्षेत्रीय मौसम विभाग द्वारा 27 अगस्त सुबह आठ बजे से 28 अगस्त सुबह आठ बजे तक 102 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गयी। इस दौरान मुंबई के वर्ली में 63.75 एमएम, बायकुला में 78.21 एमएम, भांडुप में 90.63 एमएम और विकरोली में 111.96 बारिश हुई थी। सोमवार (28 अगस्त) को सुबह 8.30 बजे से दोपहर 2.30 बजे तक कोलाबा में 35.8 एमएम और सांताक्रुज में 28.6 एमएम बरसात हुई थी। बारिश के कारण पूरे शहर में कई जगह जाम लग गया है। सोमवार को दक्षिणी मुंबई में ज्यादा बरसात हुई।

मुंबई में मॉनसून आने के साथ ही सड़कों पर गड्ढों का मुद्दा सुर्खियों में आ गया था। एक रेडियो जॉकी ने इन गड्ढों के खिलाफ मुहिम शुरू की तो बीएमसी पर काबिज शिव सेना ने उसका विरोध किया। वहीं एक महिला बाइकर सड़क पर बने गड्ढे में बरसात के पानी के कारण हुए जलजमान के कारण  दुर्घटना का शिकार हो गयी और उसकी मौके पर ही मौत हो गयी।