आजम खान का बड़ा बयान, बोले-‘PM मोदी कहें तो सांसदी से शपथ लेने से पहले ही दे दूंगा इस्तीफा’

नई दिल्ली । सांसद आजम खां ने कहा है कि लोकसभा के चुनाव में उनको हराने के लिए हर तरह के हथकंडे अपनाए गए। मानवाधिकारों का उल्लंघन किया गया, एक खास वर्ग के लोगों पर जुल्म किए गए। अगर किसी तरह से चुनाव जीतना ही मकसद है तो प्रधानमंत्री कहें, वह सांसद की शपथ लेने से पहले ही इस्तीफा देने को तैयार हैं। कहा कि हमें अगर यहां नहीं रहने देना है तो बता दें कहां जाएं।

अपने आवास एक युवक की आपबीती सुनने के बाद आजम खां ने कहा कि चुनाव जीतने के लिए पता नहीं कौन-कौन से हथकंडे अपनाए गए। आखिर कहां ले जा रहे हैं हम अपने मुल्क हो, क्या यही लोकतंत्र है। कोई सुनने वाला नहीं है, पुलिस की शिकायत करेंगे तो वह मारेगी। अभी तो पांच दिन भी नहीं गुजरे हैं, पांच साल कैसे गुजरेंगे। आजम खां ने कहा कि रामपुर में पुलिस-प्रशासन ने एक खास के वर्ग लोगों पर जो जुल्म ढाए हैं उसकी शिकायत वह राष्ट्रपति से करेंगे। उनकी कोशिश होगी कि वह राष्ट्रपति से मुलाकात करें। अगर मुलाकात नहीं हो सकी तो उनको ज्ञापन भेजा जाएगा।

आजम ने कहा कि वह केंद्र सरकार से मांग करेंगे कि रामपुर में चुनाव के दौरान जो कुछ भी हुआ उसकी जांच एक आयोग से कराई जाए। उन्होंने लोगों से भी अपील की है कि जिनके साथ भी ज्यादती हुई है वह अपनी शिकायत उनके पास भेज सकता है। आजम खां ने कहा कि लोग जागरूक हो जाएं, अपने हक की लड़ाई लड़ें। इस मौके पर सपा के नगर अध्यक्ष आसिम राजा, फसाहत खां शानू, ओमेंद्र सिंह चौहान और मुमताज फूल अन्य कई कार्यकर्ता मौजूद रहे।