अयोध्या में श्रीराम मंदिर के निर्माण के लिए हुंकार भरेंगे देशभर के संत

लखनऊ | अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए चौबेपुर के काशीनाथपुरवा गांव में मंगलवार को संत हुंकार भरेंगे। इस सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मंदिर निर्माण के लिए कानून बनाने की मांग की जाएगी। संत सम्मेलन की जानकारी देते हुए काशी सुमेरु पीठाधीश्वर जगद्गुरु स्वामी नरेंद्रानंद सरस्वती ने कहा कि केंद्र सरकार अब राम मंदिर निर्माण के मुद्दे को भूल गई है। अगर प्रधानमंत्री चाहते तो अब तक कानून बनाकर मंदिर निर्माण का कार्य शुरू कर देते। अब संत समाज उन पर दबाव बनाएगा कि वे जल्द से जल्द कानून बनाएं। सम्मेलन में दिगंबर अखाड़ा अयोध्या के अध्यक्ष महंत सुरेश दास भी शामिल होंगे। आमजन से एक बार फिर से एकजुट होकर आंदोलन शुरू करने की अपील की जाएगी। देश में बढ़ती दुष्कर्म की घटनाओं के विरुद्ध भी प्रस्ताव पास होगा। दुष्कर्म करने वालों को कठोर दंड देने की मांग संत करेंगे। सम्मेलन में , महामंडलेश्वर स्वामी विवेकानंद सरस्वती, नारदानंद आश्रम नैमिशारण्य के महंत स्वामी विद्या चैतन्य सरस्वती , स्वामी प्रणवपुरी अंशुमान जी महाराज, राजर्षि बजरंग शरण जी महाराज, जूना अखाड़ा के अंतरर्राष्ट्रीय महामंत्री महेंद्र नारायण गिरि जी महाराज , स्वामी बृज भूषण दास जी महाराज , स्वामी ब्रह्मास्वरूप ब्रह्माचारी महाराज शामिल होंगे।

जगद्गुरु स्वामी नरेंद्रानंद सरस्वती ने कहा कि 2014 में जब चुनाव हुआ था तो भाजपा ने वादा किया था अयोध्या में मंदिर बनेगा। जम्मू कश्मीर में धारा 370 को समाप्त किया जाएगा। समान नागरिक संहिता कानून लागू किया जाएगा। अब वक्त आ गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुनाव पूर्व के वादे को पूरा करें।