विधानसभा चुनाव 2022: असदुद्दीन ओवैसी, कहा- डिंपल को हमने नहीं चाचा शिवपाल ने हराया था

कन्नौज। कन्नौज के हाजी शरीफ स्थित उर्स मैदान में एआईएमआईएम प्रत्याशी डॉक्टर सुनील दिवावर के समर्थन में ओवैसी ने कहा कि भागीदारी परिवर्तन मोर्चा के नाम से वे लोग गठबंधन कर चुनाव लड़ रहे हैं।

सपा के गढ़ कन्नौज में जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बाबू सिंह कुशवाहा के साथ एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी भाजपा और सपा पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि उन पर आरोप लग रहे हैं कि वे सपा को हराने आए हैं। इससे पहले तो वे यूपी में नहीं आए फिर डिंपल को उन्होंने कैसे हरा दिया। अखिलेश की पत्नी डिंपल को उन्होंने नहीं बल्कि चाचा शिवपाल सिंह यादव ने भाजपा से मिलकर हराया था।

शहर के हाजी शरीफ स्थित उर्स मैदान में एआईएमआईएम प्रत्याशी डॉक्टर सुनील दिवावर के समर्थन में ओवैसी ने कहा कि भागीदारी परिवर्तन मोर्चा के नाम से वे लोग गठबंधन कर चुनाव लड़ रहे हैं। चुनाव जीतने पर बाबू सिंह कुशवाहा प्रदेश के सीएम होंगे। इसमें अल्पसंख्यक और दो अति पिछड़े समाज के डिप्टी सीएम होंगे। ओवैसी ने कहा कि 20 फरवरी को महिलाएं हिजाब और नकाब में मतदान करें।

वहीं छिबरामऊ के सिकंदरपुर स्थित भारतीय शिक्षा सदन इंटर कॉलेज के मैदान में बाबू सिंह कुशवाहा ने कहा कि भाजपा सरकार सबका साथ सबका विकास के मूलमंत्र से भटक चुकी है। गठबंधन प्रत्याशी चंदन पठान, तिर्वा विधानसभा प्रत्याशी रामेंद्र शाक्य व कन्नौज सदर प्रत्याशी सुनील दिवाकर भी मौजूद रहे।