कोलकाता में असदुद्दीन ओवैसी को नहीं मिली रैली करने की इजाजत, AIMIM ने लगाया ये बड़ा आरोप-

कोलकता | पश्चिम बंगाल में कुछ ही महीनों में विधानसभा चुनाव होने जा रहा है। इसे देखते हुए सियासी सरगर्मी तेज होती जा रही है। बिहार चुनाव में शानदार प्रदर्शन करने वाली एआईएमआईएण ने बंगाल में भी दांव आजमाने की घोषणा की है। पार्टी प्रमुख और लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी की कोलकाता में 25 फरवरी यानी आज रैली होने वाली थी। हालांकि स्थानीय पुलिस ने इसकी इजाजत नहीं दी, जिसके कारण इसे रद्द करना पड़ गया।

पार्टी के सूत्रों ने बताया कि ओवैसी को अल्पसंख्यक बहुल मेतियाब्रुज़ इलाके में रैली के जरिए बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी का प्रचार अभियान का आगाज़ करना था। एआईएमआईएम के प्रदेश सचिव जमीर उल हसन ने बताया कि पुलिस ने रैली के लिए उन्हें इजाजत नहीं दी।

हसन ने बताया, ‘हमने इजाज़त के लिए 10 दिन पहले आवेदन दिया था, मगर आज हमें पुलिस ने सूचित किया कि वे हमें रैली करने की इजाज़त नहीं देंगे। हम टीएमसी के ऐसे हथकंडों के आगे झुकेंगे नहीं। हम चर्चा करेंगे और कार्यक्रम की नई तारीख बताएंगे।’ कोलकाता पुलिस ने मामले पर टिप्पणी करने से इनकार दिया है। तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के सांसद सौगत रॉय ने रैली के लिए इजाज़त नहीं मिलने में अपनी पार्टी की भूमिका से इनकार किया।