राहुल गाँधी बोले- ‘अमेठी मेरा परिवार, यहां से नहीं जाऊंगा’

अमेठी | छह मई को अमेठी लोकसभा क्षेत्र के लिए होने वाले मतदान के पूर्व शनिवार को केन्द्रीय कांग्रेस कार्यालय, गौरीगंज पहुंचे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बूथ प्रभारियों को चुनाव सामग्री वितरित की। इस दौरान उन्होंने अमेठी को अपना परिवार बताते हुए अमेठी को न छोड़ने की बात कही। शनिवार अपराह्न 3 बजे मुंशीगंज की तरफ से राहुल गांधी का काफिला कांग्रेस कार्यालय गौरीगंज पहुंचा। जहां तिलोई विधानसभा क्षेत्र के तिलोई व सिंहपुर ब्लाक के 279 बूथ प्रभारियों को चुनाव सामग्री का वितरण किया जा रहा था। राहुल ने कई बूथ प्रभारियों को चुनाव सामग्री दी। अपने बीच राहुल गांधी को पाकर एक कार्यकर्ता ने पूछा कि-भइया क्या आप हमें छोड़ देंगे ? तो राहुल ने प्रतिप्रश्न करते हुए पूछा कि आपको हम पर भरोसा है। तो उसने हां में जवाब दिया। राहुल गांधी ने कहा कि अमेठी मेरा परिवार है। आप मुझ पर भरोसा रखिए, मैं आपको छोड़कर कहीं नहीं जाऊंगा। उन्होंने बूथ प्रभारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक आर्मी ने किया, मोदी ने नहीं।

विकास चाहिए तो सरकारा बदलनी होगी : प्रियंका
अमेठी संसदीय क्षेत्र के रसूलाबाद में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने राहुल गांधी के समर्थन में जनसभा को संबोधित करते हुए भाजपा पर नोट से वोट की राजनीति का आरोप लगाया। इन्होंने कहा कि अगर विकास चाहिए तो सरकार बदलनी होगी। आपका एक-एक वोट हमें सरकार से लड़ने की ताकत देगा। प्रियंका गांधी रसूलाबाद में जनसभा को संबोधित करने 11 बजकर 24 मिनट पर पहुंची। अपने 30 मिनट के संबोधन में प्रियंका ने कहा कि कोई नहीं है टक्कर में..तो जनता ने जबाब दिया क्यों पड़े हो चक्कर में। उन्होंने कहा कि अमेठी में 16 बार आने वाली और हर दौरे में 4 घंटे अमेठी में बिताने वाली स्मृति ने केवल अमेठी वालों के बारे में यही समझा है कि वे नोट पर बिक जाते हैं। उन्हें लगता है कि यहां का प्रधान 20 हजार में बिक जाएगा। तंज कसते हुए प्रियंका ने कहा कि भाजपा का घोषणा पत्र बंद लिफाफों में प्रधानों को मिल गया है।