अम्बेडकर पार्क में हाथी की टूटी सूंड, बढ़ सकता है सियासी पारा

लखनऊ।  राजधानी के अम्बेडकर मैदान में लगे 32 हाथियों में से एक की सूंड़ टूट गयी है। अभी तक टूटने की सही वजह का पता नहीं चल पाया है लेकिन ये मामला कभी भी राजनीतिक मोड़ ले सकता है। बस बसपा की ओर से प्रतिक्रया आने की  देर है। हालांकि अधिकारियों का कहना है कि सूंड टूटने की वजह भयंकर गर्मी भी हो सकती है। घटना की असलियत का पता लगाया जा रहा है। इससे पहले भी अम्बेडकरनगर मैदान में मायावती की मूर्ति को भी तोड़ा जा चुका है।
बता दें कि बसपा शासन में पत्थरों के बने हाथी और प्रतिमाओं की देखभाल क लिए अलग सुरक्षा वाहिनी का गठन किया गया था। गोमतीनगर में बने अम्बेडकर मैदान में 32 हाथी एक लाइन से लगाए गए थे। इनमें से एक हाथी की कीमत 65 लाख रुपये है। दरअसल हाथियों को बनाने में कई पत्थरों का प्रयोग किया गया था। जिसे सीमेंट के सहारे जोड़ा गया था। पार्क की देख रेख कर रहे अधिकारियों का कहना है कि करीब 15 दिन पहले एक हाथी की सूंड अलग होकर गिर गयी। उनका कहना है कि ये सूंड़ का टुकड़ा तेज़ गर्मी के चलते गिरा है। दरअसल गर्मी में प्रतिमाओं को जोड़ने के लिए प्रयोग हुआ सीमेंट का मसाला पिगल गया और जॉइंट कमज़ोर होने के चलते सूण टूट के गिर गयी। पार्क के मैनेजर मान सिंह ने बताया कि एलडीए अधिकारियों के संज्ञान में ये मामला डाल दिया गया है। मैनटेनैंस की फ़ाइल भी चला दी गयी है। स्मारकों के लिए बजट आरक्षित भी हो चुका। पत्थर राजधानी में नहीं मिल रहा है। इसे बाहर से मंगवा कर दुरस्त किया जाएगा।