इलाहाबाद : महिला उत्पीडन के मामलों में लापरवाही बर्दाश्त नहीं – अनीता सिंह

शशांक मिश्रा/इलाहाबाद | सदस्य उ.प्र, महिला आयोग अनीता सिंह ने आज महिलाओं से संबंधित शिकायतों के निराकरण हेतु माह के प्रथम बुधवार में महिलाओं की समस्याओं को सुना की। उन्होंन समस्याओं के निकाकरण में अधिकारियों को तीव्र गति लाते हुए उसका निराकरण प्राथमिकता के आधार पर करने के निर्देश दिये शिकायतकर्ता को उनकी समस्या के निस्तारण की वस्तुस्थिति से भी अवगत कराया जाय।

जनसुनवाई में रीता मिश्रा ग्राम ककरा सरायइनायत ने शिकायत की उनके पति को फर्जी मुकदमें में फंसाया जा रहा है एवं इसी के दूसरे पक्ष ने भी अपनी शिकायत में रीता यादव ने लगाये आरोपो को सही ठहराया है जिस पर मा. सदस्य ने दोनों पक्षों को न्याय भरोसा दिलाया और कहा कि इसकी जांच की जायेगी एवं दोषी के विरूद्ध कार्रवाही भी की जायेगी। नीलिमा चौधरी धूमनगंज ने दहेज प्रतापड़ना के सम्बन्ध में मा. सदस्य के सामने अपनी समस्याओं का उल्लेख किया जिस पर मा. सदस्य ने सम्बन्धित थाना को निर्देशित किया कि प्रकरण में दोषी व्यक्तियों के खिलाफ कार्रवाही सख्त कार्रवाही की जाये। इसी तरह सरिता देवी धूमनगंज ने अपने पति के गायब होने की शिकायत दर्ज करायी जिस पर मा. सदस्य ने गम्भीरता से लेते हुए प्रकरण को शीघ्र निस्तारित करने के निर्देश दिये। दिल्ली रहने वाली चांदनी जैसल ने बताया कि उसके पति के द्वारा उसे धमकी दी जा रही है जिस पर मा. सदस्य ने सिविल लाइन्स थाने में इसकी जांच कर कार्रवाही किये जाने को कहा।

जनसुनवाई में अपने बेटे से प्रताड़ित की जा रही मां भी सदस्य के सामने अपनी गुहार लगायी जिस पर सदस्य ने शिकायतकर्ती गुलाब देवी निवासी कीड़गज को भरोसा दिलाया और कहा कि उनके साथ न्याय किया जायेगा एवं उसके बेटे के खिलाफ कार्रवाही की जायेगी। सदर निवासी माला देवी ने शिकायत किया कि उसके पति के रिटायरमेंट के पैसे में हिस्सेदारी नही दी जा रही है जबकि नौकरी के वक्त आबकारी आयुक्त के निर्देश पर उसके खाते में पैसा आता था। जिस पर आयोग के सदस्य ने इस पर सम्बन्धित को कार्रवाही करते हुए पीड़िता को उसका हक दिलाने के लिये निर्देशित किया। सदस्य ने उपस्थित अधिकारकियों को स्पष्ट रूप से यह निर्देशित किया कि महिला उत्पीड़न की शिकायतों को गम्भीरता से सुना जाय एवं उनके निराकरण भी प्राथमिकता के आधार पर सुनिश्चित करते हुए शिकायतों पर हुयी कार्रवाही पर सम्बन्धित शिकायतकर्ता को भी अवगत कराया जाय। महिला उत्पीड़न के मामलों में किसी प्रकार की लापरवाही किसी भी स्तर पर बर्दाश्त नही की जायेगी। जनसुनवाई मे एडीएम प्रशासन महेन्द्र कुमार राय, जिला प्रोबेशन अधिकारी पंकज कुमार मिश्र सहित, महिला थाना के पुलिस कर्मी भी उपस्थित थे।