किसान नेताओं के आव्हान पर आज सिंघु बॉर्डर पहुंचेंगी अलका लांबा, महिलाओं से किया आव्हान- ‘अन्नदाता दिल्ली की दहलीज पर हमारा इंतजार कर रहा है, आइए इस क्रांति का हिस्सा बनें’

नई दिल्ली । कृषि कानूनों के विरोध में मोदी सरकार के खिलाफ चल रहा किसानों का आंदोलन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है । किसानों ने कानूनों की वापसी तक आंदोलन का एलान किया है । दिल्ली के टीकरी बॉर्डर और सिंघु बॉर्डर पर बड़ी संख्या में किसान जमे हुए हैं । शनिवार को किसान नेताओं ने देश की महिला शक्ति से आंदोलन में हिस्सा लेने का आव्हान किया तो कांग्रेस प्रवक्ता अलका लांबा ने रविवार से आंदोलन में शामिल होने का एलान कर दिया । अलका लांबा आज रविवार को किसानों के सिंधु बॉर्डर पर चल रहे धरने में शामिल होंगी । अलका ने महिलाओं से बड़ी संख्या में पहुंचने का आव्हान किया है ।

अलका लांबा ने ट्वीट किया कि- देश की #नारी_शक्ति से किसानों द्वारा आह्वान किया जा रहा है, समय आ चुका है कि देश की #महिलाएँ अब आगे आकर मोर्चा सम्भालें –  घर बैठ कर बहुत चूल्हा – चौका सम्भाल लिया – जब #अन्नदाता नहीं, उसका #हल नहीं, #खेती नहीं – ऐेसे में चूल्हा क्या जलाएँगी ? कल #SinghuBorder पहुंच रही हूँ।

अलका लांबा ने कहा कि- देश के अन्न-दाताओं ने देश की आधी-शक्ति, आधी-आबादी – #महिलाओं को पुकारा है, हमारा #अन्नदाता दिल्ली की दहलीज पर बैठा हमारा इंतजार कर रहा है – आइए इस क्रांति, इस आंदोलन का हिस्सा बने और ख़ुद पर गर्व महसूस कर सकें कि हम हमारे अन्नदाताओं के साथ खड़े होकर अन्याय के ख़िलाफ़ लड़ रहे हैं ।

वहीं एक अन्य ट्वीट में अलका ने कहा कि- धारा 370 गई, ट्रीपल तलाक क़ानून पास, लव जिहाद क़ानून पास, गौ मंत्रालय बन गया, #CAA क़ानून आ गया, अब बस अगले 4सालों में पाकिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल, भूटान को शामिल कर #अखण्ड भारत बनाना है और हिन्दुओं को छोड़ सबको बाहर निकाल कर #हिन्दू_राष्ट्र बनाना है. BJP को वोट देने वालों को बधाई.

अलका लांबा ने रविवार सुबह लिखा-मैं #दिल्ली हूं, मैं #किसान के साथ हूं …🇮🇳🙏