अलीगढ : सपाइयों ने फूंका योगी सरकार के खिलाफ बिगुल, प्रदर्शन में पहुंचे हजारों लोग

अलीगढ़ । समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के आव्हान पर ‘‘देश बचाओ, देश बनाओ’’ हेतु अगस्त क्रान्ति के अवसर पर बुधवार को कलैक्ट्रेट पर भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ आक्रोश व्यक्त करते हुये विशाल धरना प्रदर्शन किया गया। जिसमें हजारों की संख्या में सपाईयों ने एकजुट होकर भाजपा सरकार की गुंडई, अत्याचार व भ्रष्टाचार के खिलाफ विगुल फूंक दिया।

कलैक्ट्रेट आयोजित धरने में उमड़े जनसैलान को देख जिलाध्यक्ष अशोक यादव ने कहा कि अगर उ.प्र. में समाजवादी पार्टी के युवा ने अंगडाई ले ली तो न मोदी बचेगा और न योगी। अखिलेश यादव द्वारा प्रदेश में योगी सरकार को 6 माह का समय दिया गया था, लेकिन प्रदेश की योगी सरकार द्वारा मात्र साढ़े माह में ही लूट, हत्या, डकैती, रेप, बलात्कार आदि जघन्य वारदातों से प्रदेश की जनता त्राहि-त्राहि कर रही है। प्रदेश में भगवा गुंडो का आतंक फैला है, जिसे समाजवादी पार्टी अब कतई बर्दाश्त नहीं करेगी। प्रदेश की जनता के उत्पीड़न के खिलाफ समाजवादियों द्वारा लाल टोपी लगाकर सड़कों पर जमकर प्रदर्शन किया गया। अशोक यादव ने कहा कि ‘‘न मारेंगे न मारने देंगे जनता उत्पीड़न नहीं होने देंगे।
पूर्व शहर विधायक जफर आलम ने कहा कि प्रदेश में गौरक्षा के नाम पर खुलेआम गुंडई की जा रही है, दिन दहाड़े खुलेआम लोगों को कत्लेआम हो जा रहा है। एक विशेष जाति वर्ग के लोगों को प्रताड़ित किया जा रहा है। उन्होंने अखिलेश यादव को धन्यवाद दिया कि उन्होंने समाजवादियों को सड़कों पर उतर प्रदर्शन करने का आव्हान किया। कांग्रेस जिलाध्यक्ष व पूर्व सांसद चौ.बिजेन्द्र सिंह ने कहा कि युवा जोश व युवा सोच को सलाम करता हूं, क्योंकि अखिलेश यादव जी द्वारा यह दिन आन्दोलन का चुना गया जब देश में त्राहि-त्राहि मची हुई थी, कत्लेआम हो रहे थे, संविधान टूट चुका था, अंग्रेजों की हुकूमत हिन्दुस्तान के साथ जोहर कर रही थी। साढे तीन साल हो गये दिल्ली में भाजपा की सरकार को जो संस्कारों, आदर्श, ईमानदारी की दुहाई देते थे, आज उन्होंने उ.प्र. की सरजमीं पर यह सिद्ध करके दे दिया है कि इनसे बड़ी अलोकतांत्रिक, बेईमान, झूठी सरकार नहीं।
ठा. राकेश सिंह ने कहा कि भाजपा वाले पहले अखिलेश सरकार पर गुंडई की सीमा पार करने का आरोप लगाते थे। आज मात्र तीन महीने में योगी सरकार में तीन गुना अपराध बढ़ा है। अब तो सरकार तुम्हारी व प्रशासन भी तुम्हारा है दम है तो अपराध रोक कर दिखाओ। अब पूरी भाजपा गुंडा दल बन कर तैयार हो गई है।
ख्वाजा हलीम ने कहा कि मोदी में दम है तो मीट एक्सपोर्ट बंद कर दें, अवैध बूचड़खाने, कट्टी अपने आप रूक जायेगी। हिम्मत है तो अलीगढ़ की अवाम को बता दो अलीगढ़ में छह कट्टीघरों के लाईसेंस पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की कलम से हुये। सड़कों पर खड़े होकर वसूली करते हो, तमाम कट्टीघरों से महीनादारी वसूलते हो और फिर यहां आकर राजनीति करते हो। शर्म करनी चाहिये ऐसी राजनैतिक पार्टी व नेताओं को। महानगर अध्यक्ष अज्जू इश्हाक ने कहा कि आज पूरे देश में त्राहि-त्राहि मची हुई है। भाजपा कहती थी कि अखिलेश यादव तोड़-फोड़ की राजनीति में विश्वास में रखते है, अभी इन्होंने उ.प्र. की सरजमीं पर विधानसभा में नंगा नांच किया गया। समाजवादी पार्टी के तीन व बसपा का एक एमएलसी तोड़ा। उन पर आय से अधिक सम्पत्ति में सीबीआई, ईडी, आईबी के डंडे चला रहे है, उनसे बोला जा रहा है या तो जेल जाओ या पार्टी तोड़ कर हमारे साथ आना होगा। इस तरह प्रताड़ित कर लोगों को पार्टी से तोड़ने का काम रहे हैं।

एमएलसी व अलीगढ़ प्रभारी ठा.उदयवीर सिंह ने कहा कि किसान, गरीब व नौजवान सभी वर्ग बर्बाद है। किसान की फसल की आय दूनी करने की बात कहते थे आज किसान को फसल की लागत तक नहीं मिल रही है। गांव में सच्चाई तो यह है कि गरीब, किसान, मजदूरों का आर्थिक कत्ल कर दिया है। 15 उद्योगपतियों का 1 लाख 67 हजार करोड़ का कर्जा माफ किया है अगर नैतिकता थी मोदी जी तो इतना कर्जा तो किसानों का भी नहीं था। ऐसे देश के सवा सौ करोड़ जनता का नेता बनना चाहते हो। यह जनता भूली नहीं है अंग्रेजों को खदेड़ कर देश से बाहर भगा दिया था तो भाजपा किस खेत की मूली है।