अलीगढ़ : RLD नेता बोले- ‘व्यवस्था दर्पण पर मुकद्दमा प्रेस की आजादी पर हमला’

अलीगढ | व्यवस्था दर्पण के संपादक और रालोद नेता जियाउर्रहमान के खिलाफ कासगंज हिंसा मामले में भाजपा नेता की शिकायत पर कथित रूप से भड़काऊ पोस्ट डालने पर दर्ज हुए मुकद्दमे के खिलाफ रालोद ने कड़ा विरोध जताया है | जियाउर्रहमान से तत्काल मुकद्दमा वापिस लेने की मांग की है और सोमवार को एसएसपी से मिलकर विरोध जताने का एलान किया है | रालोद जिलाध्यक्ष रामबहादुर चौधरी ने कहा है कि रालोद नेता और व्यवस्था दर्पण के संपादक जियाउर्रहमान पर भाजपा नेता ने षड्यंत्र के तहत मुकद्दमा दर्ज कराया है, उन्होंने कहा कि सच्चाई सामने लाने वालो के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराकर योगी सरकार तानाशाही दिखा रही है | उन्होंने कहा कि सोमवार को एसएसपी से मिलकर मुकद्दमा वापिस लेने की मांग करेंगे, मुकद्दमा वापिस नहीं हुआ तो आर पार की लड़ाई लड़ी जायेगी |

यूथ एडवोकेट कौंसिल के संयोजक और रालोद के पूर्व मेयर प्रत्याशी प्रतीक चौधरी एड ने कहा है कि जियाउर्रहमान व्यवस्था दर्पण के जरिये सच्चाई सामने लाते हैं, उनपर मुकद्दमा दर्ज कर दबाने का प्रयास किया जा रहा है जो कतई नहीं होने दिया जायेगा | प्रतीक चौधरी एड ने कहा है कि व्यवस्था दर्पण की लड़ाई दीवानी से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक निशुल्क लड़ेंगे, तानाशाही के खिलाफ अधिवक्ता समाज और रालोद चुप नहीं बैठेगा | उन्होंने कहा कि व्यवस्था दर्पण पर रिपोर्ट दर्ज करने से पहले पुलिस और प्रशासन को भाजपा के उन नेताओं पर मुकद्दमा दर्ज करना चाहिए जो धर्म विशेष के खिलाफ खुलकर जहर उगलते हैं, माहौल ख़राब करते हैं |

पूर्व विधायक भगवती प्रसाद सूर्यवंशी ने कहा है कि जियाउर्रहमान पर मुकद्दमा दर्ज होना सरकार की तानाशाही का प्रमाण है, रालोद नेता और व्यवस्था दर्पण के संपादक से मुकद्दमा वापिस नहीं हुआ तो चुप नहीं बैठेंगे | उन्होंने कहा कि भाजपा की मनमानी के खिलाफ हर स्तर पर आवाज़ बुलंद करेंगे | भाजपा की तानाशाही जारी रही तो लड़ाई आर पार की होगी | पूरा रालोद जिया के साथ है | मुकद्दमा दर्ज होने की रालोद नेता नवाब सिंह छोंकर, डॉ इरफ़ान खान, कुलदीप चौधरी, ओमपाल सूर्यवंशी, मनु चौधरी, केपी सिंह ने भी निंदा की है |