अलीगढ : RLD की किसान पंचायत में किसानों का झलका दर्द, धर्म जाति से हटकर एकजुट होने का आव्हान

अलीगढ़/अतरौली । चौ चरण सिंह के जन्मदिवस के उपलक्ष्य में रालोद द्वारा मनाए जा रहे किसान सप्ताह में गांवों के किसानों का दर्द खुलकर झलक रहा है । शुक्रवार को अतरौली के गांव राजगांव में बडेसरा, चंदुआ, नागर, पाली, खानपुर, पीपली, हुसैनपुर, स्याहवाली, शेखपुर गांवों के किसानों की पंचायत हुई । पंचायत में किसानों के मसीहा चौ चरण सिंह को श्रदांजलि अर्पित की गई और किसानो की वर्तमान स्थिति पर चर्चा की गई । किसान राजपाल सिंह, विक्रम सिंह, पप्पू चौधरी , निहाल सिंह, सत्यप्रकाश शर्मा ने अपना दर्द बयां करते हुए कहा कि मोदी सरकार ने किसानों से जो वायदे किये थे पूरे नही किये हैं, किसानों के साथ धोखा हुआ है । उन्होंने कहा कि गांव में किसान परेशान है, आलू किसान बर्बाद है, दूध की कीमतें घट रही हैं लेकिन सरकार सो रही है । उन्होंने किसानों की आवाज़ रालोद से बुलंद करने का आव्हान किया । किसान मुनेश चौधरी, सरदार सिंह काका ने कहा कि चौ चरण सिंह सही मायने में किसानों के मसीहा थे, उन जैसा नेता आजतक नही है । उन्होंने कहा कि चौ चरण सिंह की विरासत को आगे बढ़ाना होगा।

पूर्व विधायक भगवती प्रसाद, जिलाध्यक्ष रामबहादुर चौधरी, सीपी सिंह धनगर, छात्र नेता जियाउर्रहमान ने कहा कि मोदी सरकार किसान विरोधी सरकार है, किसानों को धर्म और जाति से हटकर एकजुट होना होगा और किसान विरोधी सरकार को उखाड़ फेंकना है । उन्हीने कहा कि किसान अब खुद को ठगा महसूस कर रहे हैं । उन्होंने कहा कि रालोद हर मुद्दे पर किसानो के साथ है ।

इस अवसर पर रालोद जिलाध्यक्ष रामबहादुर चौधरी, सीपी सिंह धनगर, डॉ इरफान, छात्र नेता जियाउर्रहमान, डॉ इरफान , युवा जिलाध्यक्ष अमित चौहान, सलमान शेरवानी ,पप्पू चौधरी, श्योराज सिंह ,ओमपाल सिंह, उदयपाल सिंह, डिप्टी सिंह, दलवीर सिंह, कपिल चौधरी, रणवीर सिंह, महाराज सिंह आदि मौजूद रहे ।