अलीगढ़ को अब ‘हरिगढ़’ बनाने की तैयारी, कल्याण सिंह के नाम से जाना जाएगा धनीपुर एयरपोर्ट

अलीगढ | यूपी चुनाव आते ही एकबार फिर नाम बदलने की सियासत शुरू हो गयी है | अब अलीगढ को हरिगढ़ बनाने की मांग उठी है | नवगठित जिला पंचायत की दूसरी बोर्ड बैठक सोमवार को जिला पंचायत परिसर के गोविंद वल्लभ पंत सभागार के किसान भवन में हुई। अध्यक्षता करते हुए विजय सिंह ने सभी सदस्यों, ब्लॉक प्रमुख, विधायकों को बैठक में प्रतिभाग करने के लिए धन्यवाद दिया और उनके सुझाव भी मांगे। उन्होंने कहा कि जिले को एक नई चीनी मिल की दरकार है। सदन इस मामले में गंभीरता से पहल करते हुए शासन से मांग उठाएगा।

बजट की मंजूरी मिलने पर चीनी मिल की स्थापना कराई जाएगी। बैठक में केहरी सिंह और उमेश यादव ने अलीगढ़ का नाम हरिगढ़ करने का प्रस्ताव दिया। इसके अलावा अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ने स्व. राजा बलवंत सिंह के नाम से द्वार बनाने की अपील की। कुछ भाजपा नेताओं ने धनीपुर मिनी एयरपोर्ट का नाम पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के नाम पर रखने की मांग की। बरौली विधायक ठा. दलवीर सिंह ने चेतनराज सिंह के नाम से द्वार बनाने का प्रस्ताव रखा।

मंच संभाल रहे पूर्व अध्यक्ष चौ. सुधीर सिंह ने कहा कि जिला पंचायत बोर्ड बैठक में विभागों के जिलास्तरीय अधिकारी ही प्रतिभाग करें, जिससे सवाल जवाब होने पर सटीक जानकारी मिल सके। ऐसा नहीं होने पर सदन की ओर से कार्यवाही की सिफारिश की जाय। उन्होंने कहा कि विभागों में आने वाले जिला पंचायत सदस्यों का सम्मान किया जाय। उन्हें पेयजल और चाय की पेशकश करते हुए कुर्सी दी जाय। उनकी बात सुनी जाय। ऐसा नहीं होने पर संबंधित विभाग से इसका कारण पूछा जाएगा। इसके बाद अकराबाद के ब्लॉक प्रमुख राहुल सिंह ने नानऊ प्राथमिक स्कूल और बीआसी का भवन जीटी रोड हाईवे से खासा नीचा होने का मुद्दा उठाया। उन्होंने बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों पर निर्माण में धांधली करने का भी आरोप लगाया। उन्होंने तेहरामोड़ भिलावली गोपी के 15 किलोमीटर रोड की दुर्दशा का भी मुद्दा गरमाया। कहा कि रोड पर चलना दूभर हो गया है। इस पर अध्यक्ष की ओर से जल्द ही कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया गया।