अलीगढ : कोली समाज के धरने में पहुंचे बसपा नेता ज़मीरुल्लाह का विरोध, हिंदूवादियों ने की नारेबाजी, देखें वीडियो

अलीगढ । पिछले माह एक पुलिसकर्मी की गन से नितिन माहौर की हत्या के मामले में हत्यारोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर कोरी समाज ने घंटाघर से कलेक्ट्रेट कूच किया तो जानकारी मिलते ही बसपा नेता पूर्व विधायक ज़मीरुल्लाह खान भी मृतक नितिन कोली को न्याय की आवाज़ बुलंद करने पहुंच गए । जुलूस में शामिल हिंदूवादी नेता संजू बजाज ने नितिन को इंसाफ दिलाने के लिए निकाले मार्च मे ही ज़मीरुल्लाह के खिलाफ जमकर नारेबाजी करा दी । युवकों के एक समूह ने जमीरुलल्लाह मुर्दाबाद के जमकर नारे लगाए । समाज के कुछ लोगो ने उन्हें आकर शांत किया तब वह शांत हुए । हालांकि ज़मीरुल्लाह ने नितिन कोली को न्याय देने और फरार हत्यारोपियों को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग की ।

अखिल भारतीय कोरी कोली समाज के जिलाध्यक्ष सनी माहौर ने कहा कि आज के धरने में कुछ लोगों द्वारा बहुजन समाज पार्टी के जमीरउल्लाह को धरने में बुलाकर नितिन की मौत पर राजनीति कर रहे हैं कोरी समाज ऐसे लोग का विरोध करता है और नितिन के हत्यारों को गिरफ्तार कराने को लेकर आंदोलन की आवश्यकता पड़ी तो उससे भी पीछे नही हटेंगे ।

हिंदूवादी नेता संजू बजाज ने कहा है कि आज का जो कृत्य है वह दुर्भाग्यपूर्ण है, बसपा के नेता जमीरउल्लाह जोकि केवल मुस्लिमों के नेता हैं जो कोतवाली में खड़े होकर कहते थे कि एक के बदले चार मारेंगे । आज जमीरउल्लाह दलितों के नाम पर राजनीति करने चले हैं गत दिनों देहली गेट में दलित गौरव की हत्या एवं अनारकली मोहल्ले की नौ साल की बेटी के साथ बलात्कार कर पिता को मार डाला उस समय कहाँ थे। जो लोग नितिन की मौत पर अपनी राजनीति चमकाना चाहते हैं शर्मनाक है।

हाजी ज़मीरुल्लाह ने कहा कि चंद भाजपा और आरएसएस के लोग नही चाहते कि दलितों की आवाज़ बुलंद हो । उन्होंने कहा कि कुछ लोगो के सुनियोजित विरोध से वह रुकने वाले नही है ,दलितों, अल्पसंख्यकों और वंचितों की आवाज़ वह उठाते रहेंगे ।