अलीगढ में बोले योगी : कल्याण का शासन सुशासन का मानक, पर्यावरण संरक्षण हम सबकी जिम्मेदारी

अलीगढ। उ0प्र0 के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को  अलीगढ नुमाइश ग्राउण्ड स्थित कृष्णांजलि नाट्यशाला में आयोजित एक भव्य समारोह में विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर स्त्रोत पर कूडे के पृथक्करण एवं स्वच्छ भारत मिशन प्रदर्शनी तथा पृथक्कीकृत कूडे के परिवहन हेतु वाहनों के परिचालन का शुभारम्भ किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर अलीगढ मण्डल के चहुॅमुखी विकास हेतु 314 करोड 36 लाख रूपये की 37 विकास परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण रिमोट द्वारा शिलापट्टिकाओ का अनावरण कर किया।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने सम्बोधन में कहा कि स्वच्छ भारत मिशन को जन आन्दोलन बनाकर पर्यावरण को प्रदूषित होने से रोकने की जिम्मेदारी हम सबकी है। उन्होंने कहा कि पर्यावरण में होने वाले बदलावों से हम सभी प्रभावित होते है और स्वस्थ समाज के लिये संतुलित पर्यावरण अत्यन्त आवश्यक है तथा एैसे में यह आवश्यक है कि हम हर तरह के प्रदूषण पर लगाम लगायें तथा स्त्रोत पर कूडा पृथक्करण योजना इसी दिशा में एक प्रभावशाली कदम है। उन्होंने पर्यावरण को संतुलित एवं साफ-सुथरा बनाने के लिये प्रभावी कार्य किये जाने तथा प्रदूषण फैलाने वाले उद्योगों पर सख्त कार्यवाही किये जाने के अधिकारियों को निर्देश दिये। मुख्यमंत्री योगी ने कल्याण सिंह के शासन को सुशासन का मानक बताया। उनके विकास के मॉडल को आदर्श बताया। उन्होंने ताला और हार्डवेयर उद्योग को और आगे बढ़ाने का आह्वान किया। विधायकों से कहा कि वह दिशा में सोचें और रोजगार के नये अवसर बनाएं। मुरादाबाद के पीतल और खुर्जा के क्राकरी उद्योग का जिक्र करते हुए कहा कि यूपी के प्रत्येक शहर में कोई न कोई कारोबार विख्यात है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि अलीगढ पर्यावरण संरक्षण के दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण स्थान रखता है क्योकि यहां साॅलिड वेस्ट मेनेजमेन्ट पर आधारित स्त्रोत पर कूडा पृथक्करण योजना का अभिवन प्रयोग संचालित है जिससे कूडे द्वारा कम्पोस्ट खाद बनाकर जैविक खेती को बढावा दिया जा रहा है जो कि दूसरे जिलों के लिये अनुकरणीय है।

इन योजनाओ का सीएम ने किया लोकार्पण एवं शिलान्यास –
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर अलीगढ मण्डल के चहॅुमुखी विकास हेतु 314 करोड 36 लाख रूपये लागत की 37 विकास योजनाआंें का शिलान्यास एवं लोकार्पण रिमोट द्वारा शिलापट्टिकाओं का अनावरण कर किया। मुख्यमंत्री द्वारा जनपद अलीगढ में 11443.05 लाख रूपये लागत की 18 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण किया गया। लोकार्पण की गयी परियोजनाओं में मुख्य रूप से अलीगढ सर्किट हाउस (लागत 570 लाख रूपये) , 2 स्वास्थ्य केन्द्रों के भवन निर्माण (लागत 1876.57 लाख रूपये) , जनपद अलीगढ में ट्रामा सेन्टर जसरथपुर का निर्माण कार्य (लागत 214.95 लाख रूपये) , 33/11 केवी के 2 विद्युत उपकेन्द्रों का निर्माण कार्य (लागत 648.86 लाख रूपये) , अलीगढ शहर में जेल रोड रेल ऊपरगामी सेतु का निर्माण कार्य (लागत 5720.25 लाख रूपये), मार्गो का निर्माण (लागत 1824.93 लाख रूपये) , सारथी साॅफ्टवेयर आधारित स्मार्ट कार्ड ड्राइविंग लाइसेंन्स बनाने हेत हाॅल का निर्माण (लागत 190.89 लाख रूपये) , तथा अलीगढ शहर में भूमिगत जलाशय एवं नलकूपों के निर्माण (लागत 335.39 लाख रूपये) के कार्य शामिल है। इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री द्वारा 9573.13 लाख रूपये लागत की 12 विकास परियोजनाआंे का शिलान्यास किया गया।

मुख्यमंत्री द्वारा शिलान्यास की गई परियोजनाओं में शेखा झाील अलीगढ का राष्ट्रीय पक्षी विहार के रूप में विकास कार्य (लागत 235.01 लाख रूपये) , मण्डल के राजकीय कन्या इण्टर काॅलेजों में बालिका छात्रावासों के निर्माण कार्य (लागत 885.80 लाख रूपये) जनपद अलीगढ पशु निदान प्रयोगशाला का भवन निर्माण (लागत 35.73 लाख रूपये) मार्गो का निर्माण (लागत 5645 लाख रूपये) 33/11 विद्युत केवी उपकेन्द्रों का निर्माण (लागत 360.44 लाख रूपये) तथा जनपद अलीगढ में क्षेत्रीय विधि विज्ञान भवन प्रयोगशाला का निर्माण (लागत 2411.15 लाख रूपये) शामिल हैं। इसके अतिरिक्त जनपद कासगंज में काली नदी पर एटा-कासगंज मार्ग पर 650 लाख रूपये की लागत से बनने वाले सेतु निर्माण परियोजना का भी शिलान्यास किया गया। मुख्यमंत्री जी द्वारा जनपद हाथरस में 8572.41 लाख रूपये लागत की 3 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं 229.61 लाख रूपये लागत की 1 परियोजना का शिलान्यास भी किया गया। इसके अतिरिक्त एटा जनपद की 968.38 लाख रूपये लागत की 2 परियोजनाओं का भी शिलान्यास किया गया। इसके साथ ही कार्यक्रम में 2500 परिवारों को स्त्रोत से कूडा अलग-अलग करने हेतु 2500-2500 नीला एवं हरा डस्टबिन का प्रतीक स्वरूप वितरण किया गया। इस अवसर पर नगर निगम की ब्राण्ड एम्बेसडर प्रीती माहेश्वरी द्वारा कूडे के पृथक्करण द्वारा घर पर कम्पोस्ट बनाने के सम्बन्ध में प्रस्तुतिकरण भी किया गया।
कार्यक्रम में प्रभारी मंत्री सुरेश राणा, शिक्षा राज्यमंत्री संदीप सिंह, सांसद एटा राजवीर सिंह, सांसद अलीगढ सतीश गौतम, शहर विधायक संजीव राजा, कोल विधायक अनिल पाराशर, बरौली विधायक ठा0 दलवीर सिंह, खैर विधायक अनूप बाल्मीकि, इगलास विधायक राजवीर दिलेय, छर्रा विधायक रवेन्द्र पाल सिंह, महापौर शकुन्तला भारती, जिलाध्यक्ष चौ0 देवराज सिंह सहित मण्डलायुक्त सुभाष चन्द शर्मा, डी0आई0जी0 आर0पी0एस0 यादव, जिलाधिकारी हृषिकेश भास्कर यशोद, एसएसपी राजेश कुमार पाण्डेय, नगर आयुक्त एस0के0 शर्मा एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे |