अलीगढ : बसपा मेयर मौ फुरकान के सामने भाजपा से पार पाना बड़ी चुनौती !

अलीगढ | शहर के नवनिर्वाचित मेयर मौ फुरकान के समक्ष शपथ ग्रहण कार्यक्रम में हुए बवाल के बाद अब नई चुनौती सामने आ खड़ी हुई है | भाजपा को करारी शिकस्त देने के बाद भाजपा किसी भी तरह से बसपा के मेयर के हर कार्यं में व्यवधान डालने के लिए तैयार है | मेयर शपथ में हुआ हंगामा इसी बात का प्रमाण है | हालांकि मेयर मो फुरकान ने हंगामे पर सधी हुई प्रतिक्रिया दी है जिसके कई तरह के मायने निकाले जा रहे हैं |

नुमाइश ग्राउंड में बीते मंगलवार को शपथ ग्रहण कार्यक्रम में जमकर बवाल हुआ जिससे पूरा कार्यक्रम महज औपचारिकता के लिए ही करना पडा | भाजपा के तेवरों ने नगर निगम में बोर्ड की बैठक में भी हंगामे दार रहने के संकेत दे दिए हैं | शहर में अब चर्चा है कि मेयर मौ फुरकान निगम के सदन की कार्यवाही में भाजपा से कैसे पार पाएंगे ? भाजपा से जुड़े सूत्र कहते हैं कि पांच साल बसपा को निगम में उलझाए रखना भाजपा की पहली प्राथमिकता है | वहीँ बसपाई सूत्रों का कहना है कि छात्र राजनीति से निकले मेयर मौ फुरकान भाजपा के एक धड़े को मैनेज करने में कामयाब हो जायेंगे और सदन में बहुमत प्राप्त कर लेंगे |

अब देखना यह है कि बसपा के मेयर भाजपा के राज में कैसे शहर की सरकार को चला पते हैं ?