#अलीगढ : भाजपा सरकार के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन, CM योगी से माँगा इस्तीफ़ा

अलीगढ | लखीमपुर खीरी में जनपद में गत एक पखवाड़े में चोरी के आरोप में दो दलित युवकों की बिजली का करंट लगाकर और पीट पीट कर दबंगों द्वारा हत्या करदी गई है | माननीय इलाहाबाद उच्च न्यायलय द्वारा उन्नाव बलात्कार मामले को गंभीरता से न लेने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के विरुद्ध की गई टिप्पणी पर मुख्यमंत्री के इस्तीफे की मांग और लखीमपुर खीरी में दलित युवकों की हत्या की निष्पक्ष जांच कराने की मांग करते हुये अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव विवेक बंसल के नेतृत्व में कांग्रेसजनों ने राज्यपाल महोदय को संबोधित ज्ञापन ए.सी.एम प्रथम ललित कुमार को दिया |

विवेक बंसल ने कहा कि वर्तमान समय में भाजपा की केंद्र सरकार व प्रदेश सरकारों की “फूट डालो और राज करो” की नीति के चलते पूरा देश जातिवादी हिंसा का शिकार हो रहा है, भाजपा के जनप्रतिनिधियों को बलात्कार के मामलों में संलिप्तता होने के बावजूद उनके विरुद्ध कोई कार्यवाही न होना प्रदेश सरकार की कार्यप्रणाली पर बहुत बड़ा प्रशनवाचक चिन्ह है | माननीय इलाहाबाद उच्च न्यायलय द्वारा उन्नाव बलात्कार मामले में मुख्यमंत्री और प्रदेश के महाधिवक्ता के प्रति की गई कटु टिप्पणी ने वर्तमान प्रदेश सरकार को अक्षम सिद्ध कर दिया है, इससे सिद्ध होता है कि उत्तर प्रदेश में सरकार नाम की कोई चीज़ नहीं है | सबकुछ भाजपा के विधायक व उसके पदाधिकारी हैं |

इस अवसर पर शाहरुख़ खां, सरदार दलजीत सिंह, प्रदीप रावत, राजेंद्र सिंह, रवि बघेल, बिजेंद्र सिंह बघेल, बिहारीलाल सैनी, ऋषि भारद्वाज, शाहिद खान, तल्हा अबरार, शाहिद शैख़, अमजद हुसैन, क़ुतुब, ललित शर्मा एड., सागर सिंह तौमर, उमेश अग्रवाल, अनिल सिंह चौहान, चो० वीरेंद्र सिंह, प्रदीप शर्मा, ओमप्रकाश (रेलवे), अविनाश शर्मा, रईस कुरैशी, गजेन्द्र पचौरी, योगेश यादव, प्रेमपाल सैनी, बॉबी वसी, मूलचंद्र वर्मा, रामेश्वर दयाल सविता, लोकेन्द्र शर्मा, यशपाल बघेल, धर्मेन्द्र वशिष्ठ, टिल्लू शर्मा, हरीश सक्सेना, अब्दुल्लाह नूर, गगन बघेल, पिंकू बघेल, नीरज सूर्यवंशी, अरुण बघेल, अभय भारद्वाज, दिनेश बघेल आदि मौजोद रहे |