BJP पर अखिलेश यादव का हमला, लव जिहाद कानून का किया विरोध, विधानसभा में विरोध करेगी सपा

लखनऊ | समाजवादी पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष और पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि उनकी पार्टी लव जिहाद पर बने कानून और नए कृषि कानूनों का विरोध करेगी। एक प्रेस कांफ्रेंस में पत्रकारों के सवालों के जवाब में उन्‍होंने कहा कि समाजवादी पार्टी सदन में इन कानूनों का विरोध करेगी।अखिलेश यादव ने आरोप लगाया कि उत्‍तर प्रदेश सरकार ऐसी है जो किसी को भी फंसा सकती है और किसी को जेल भेज सकती है। उन्‍होंने कहा कि आज़म खान के साथ इतना अन्याय हो रहा जिसकी कल्पना नहीं की जा सकती. ये इसलिए क्योंकि उन्होंने अच्छी यूनिवर्सिटी बनाई थी।

सपा अध्‍यक्ष ने कहा कि समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता सपा सरकार के समय की अधूरी विकास योजनाओं, पार्टी की विचारधारा, नीतियों और सिद्धांतों को लेकर जनता के बीच जाएंगे। पूरा भरोसा है कि जनता सपा की नीतियों, सिद्धांतों और कामों के आधार पर एक और मौका जरूर देगी। नए कृषि सुधार कानूनों को किसानों के खिलाफ बताते हुए सपा के मुखिया ने कहा कि इन कानूनों से किसानों की कोई मदद नहीं होने वाली। किसानों की मदद तब होगी जब सरकार उनकी मदद के लिए आगे आएगी। किसानों को बाजार के हवाले छोड़ देने से उनकी हालत बद से बदतर हो जाएगी।

उन्‍होंने कहा कि समाजवादी पार्टी ऐसे कानूनों का सदन में विरोध करेगी और सरकार से पूछेगी कि वो किसानों की आय बढ़ाने वाला कानून कब लाएगी। प्रदेश सरकार पर आरोपों की झड़ी लगाते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार जिसकी चाहे जिसकी जांच करा ले। रोज मकान तोड़े जा रहे हैं। सरकार के लोग यह नहीं बताते कि उन्‍होंने अपना नक्‍शा कब पास कराया। इस सरकार में अधिकारी एक-दूसरे के खिलाफ भ्रष्‍टाचार के आरोप लगा रहे हैं। ये वो सरकार है जो किसी को भी फंसा सकती है। किसी को भी जेल भिजवा सकती है।

कई दिग्‍गज सपा में हुए शामिल-
शनिवार को पूर्व सांसद चौधरी बृजेंद्र सिंह, पूर्व विधायक जमीर उल्‍लाह, चौधरी लियाकत, अब्‍दुल रशीद खान सहित कई अन्‍य नेता और कार्यकर्ता समाजवादी पार्टी में शामिल हुए। अखिलेश यादव ने इन सभी का पार्टी में स्‍वागत करते हुए उम्‍मीद जताई कि इनके मिलकर काम करने से पार्टी मजबूत होगी।