अखिलेश यादव और शिवपाल हुए एक, PSP का समाजवादी पार्टी में हुआ विलय

लखनऊ | अखिलेश यादव और शिवपाल अब एक हो गए हैं | मुलायम सिंह के निधन के बाद सैफई परिवार में यह एकजुटता मायने रखती है| मैनपुरी लोकसभा सीट पर जीत से उत्साहित शिवपाल सिंह यादव ने अपनी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी का सपा में विलय कर दिया। मैनपुरी उपचुनाव में सपा प्रत्याशी डिंपल यादव ने ऐतिहासिक जीत दर्ज की है।

प्रसपा का सपा में विलय करने की घोषणा पर शिवपाल ने कहा कि मेरी गाड़ी में अब सपा का झंडा रहेगा। मुझे सही समय का इंतजार था। परिवार और जनता की मांग अब पूरी हो गई है। उन्होंने कहा कि मैनपुरी उपचुनाव में सपा की जीत भाजपा के लिए कड़ा संदेश है।

शिवपाल सिंह यादव मैनपुरी में डिंपल यादव की जीत के सूत्रधार रहे हैं। उन्होंने कई सभाएं की और बहू डिंपल को जिताने की जनता से अपील की थी। डिंपल यादव ने दो लाख से भी ज्यादा वोटों से जीत दर्ज की है। डिंपल यादव के लिए समर्थन मांगने के लिए अखिलेश यादव खुद शिवपाल के पास गए थे। मैनपुरी सीट पर हुई जीत ने सपाइयों को उत्साह से भर दिया है। भाजपा ने इस सीट पर रघुराज सिंह शाक्य को उतारा था लेकिन उन्हें करारी हार नसीब हुई।