अखिलेश ने कहा भाजपा राज में अपराध बढ़े, महिलाये असुरक्षित, और अल्पसंख्यक आतंकित

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को प्रदेश की भाजपा सरकार पर निशाना साधा। कहा, राज्य सरकार को जवाब देना होगा कि प्रदेश में अराजकता क्यों है?  नौकरशाही पर विकास कार्यों में बाधक होने का आरोप लगाकर सरकार अपनी नाकामी नहीं छिपा सकती। यादव यहां सपा के प्रदेश मुख्यालय में कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे।
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा सरकार में जनता को राहत मिलने की उम्मीद नहीं है। बयानबाजी के बाद बहानेबाजी से जनता को बहकाना अब संभव नहीं हैं। उन्होंने कहा कि लाखों को रोजगार सपा सरकार में ही मिला था। बुंदेलखंड में राहत और विकास के कार्य उनकी सरकार के कार्यकाल में ही हुए। किसानों, गरीबों, नौजवानों व अल्पसंख्यकों के हित में तमाम योजनाएं लागू की गई। महिलाओं को सुरक्षा व सम्मान मिला था। जबकि भाजपा राज में गरीबों की पेंशन बंद हो गई है। अपराध बढ़े हैं, महिलाएं असुरक्षित और अल्पसंख्यक आतंकित हैं। सपा के मुख्य प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने बताया है कि राष्ट्रीय अध्यक्ष से कई विधायकों एवं पूर्व मंत्रियों ने मुलाकात की। इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्र नेताओं के एक दल ने मिलकर कहा कि आज भी नौजवानों को उन पर पूरा भरोसा है।
पश्चिमी और पूर्वी यूपी के किसानों के प्रतिनिधि भी उनसे मिलने आए। रामकोला (कुशीनगर) में वर्ष 1992 के किसान आंदोलन के रामनिवास यादव ने किसानों की समस्याओं पर चर्चा की। उत्तराखंड के सपा प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप रावत और कर्नाटक एवं मध्य प्रदेश के पार्टी के नेता भी अखिलेश यादव से मिले।