UP में गुंडाराज, मेरठ में अधिवक्ता मुकेश शर्मा की गोली मारकर हत्या, आक्रोश

मेरठ । लखनऊ का कमलेश तिवारी हत्याकांड अभी शांत भी नही हुआ था कि मेरठ से एक और हत्या की खबर आ गयी । मेरठ में बदमाशों ने अधिवक्ता को गोली मार दी । मेरठ के कमालपुर गांव में शुक्रवार रात को वरिष्ठ अधिवक्ता मुकेश शर्मा की गोली मारकर हत्या कर दी गई। वारदात को अंजाम देने के बाद हमलावर फरार हो गए। उन्हें आनंद अस्पताल में ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए अधिवक्ताओं और ग्रामीणों ने आनंद अस्पताल में पुलिस अधिकारियों को घेराव किया। कई घंटे तक शव का पंचनामा नहीं भरने दिया।

मेडिकल थाना क्षेत्र के कमालपुर गांव निवासी मुकेश शर्मा पुत्र प्रदृमन शर्मा मेरठ बार एसोसिएशन के सदस्य और ब्राह्मïण सभा के भी पदाधिकारी थे। रात साढ़े नौ बजे वह अपने घर से पैदल ही गांव में टहलने निकले थे। घर से करीब 400 मीटर की दूरी पर प्राथमिक स्कूल के पास हमलावरों ने सिर में गोली मार दी। घटना के बाद गांव में हडक़ंप मच गया और ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। आनंद अस्पताल में डॉक्टरों ने मृत घोषित किया तो भारी संख्या में अधिवक्ता भी अस्पताल पहुंच गए।

घटना की सूचना पर डीएम अनिल ढींगरा, एसएसपी अजय साहनी भारी संख्या में पुलिस फोर्स के साथ पहुंचे। इस दौरान अधिवक्ताओं ने एसएसपी से कहा कि जिले में कानून व्यवस्था चौपट हो गई है। वरिष्ठ अधिवक्ता ने भूमाफियाओं की शिकायत प्रमुख सचिव, डीजीपी, डीएम और एसएसपी से की थी। उसके बाद भी मुकेश शर्मा को सुरक्षा नहीं दी गई। गांव के ही कुछ लोगों ने सरकारी जमीन पर कब्जा कर रखा था। बाद में एसएसपी ने घटना के खुलासे का आश्वासन दिया।