PM मोदी ने अबुधाबी में रखी पहले हिन्दू मंदिर की नींव, बोले-‘सबके दर्शन करना सौभाग्य की बात’

अबू धाबी । मंदिर बनाने के लिए खास पत्थर भारत से मंगाए गए हैं और इन्हें भारतीय कारीगरों ने ही तराशा है। इस मंदिर की देखरेख बोचासनवासी श्री अक्षर पुरुषोत्तम स्वामीनारायण संस्था (BAPS) करेगी। यह संस्था 1907 से काम कर रही है और इसने दुनिया के अलग-अलग देशों में करीब 1100 मंदिर और कल्चरल सेंटर तैयार कराए हैं। तीन देशों की यात्रा पर निकले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को यहां पहले हिंदू मंदिर की नींव रखी। इस मौके पर उन्होंने कहा कि यह मंदिर वसुधैव कुटुंबकम का संदेश देगा। इससे पहले पीएम ने रविवार को यहां वहात अल-करामा मेमोरियल में अमीराती सैनिकों को श्रद्धांजलि दी ।

इससे पहले वे यहां 2015 में अपने पहले दौरे पर आए थे तब यूनाइटेड अरब अमीरात सरकार ने इस मंदिर के लिए जमीन देने का एलान किया था। स्वामीनारायण संस्था की ओर से इसे 55000 स्क्वायर मीटर में बनाया जा रहा है। यह 2020 तक बनकर तैयार हो जाएगा। यहां से मोदी ओमान जाएंगे। वहां 100 साल पुराने शिवालय में दर्शन करेंगे। साथ ही मस्जिद भी जाएंगे। मोदी ने कहा बहुत सौभाग्य की बात है कि आप सबके दर्शन करने का अवसर मिला। 2016 में योरहाईनेस ऑफ प्रिंस अबू धाबी भारत आए। 2017 में वे हमारे गणतंत्र पर्व के मेहमान थे। शायद कई दशकों के बाद भारत का खाड़ी के देशों के साथ इतना गहरा इतना व्यापक और वाइब्रेंट नाता बना है। आज खाड़ी के और देशों से हमारा नाता बायर-सेलर का नहीं पार्टनरशिप का बना है। भारत इस बात के लिए गर्व करता है कि खाड़ी देशों में 30 लाख से ज्यादा भारतीय समुदाय के लोग यहां की विकास यात्रा में भागीदार हुए हैं। मैं खाड़ी देशों का आभारी हूं कि उन्होंने हमारे 30 लाख लोगों को देश के बाहर उत्तम वातावरण दिया। भारतीयों ने इसे अपना घर मानते हुए यहां के लोगों के सपनों को साकार करने के लिए अपने सपनों को भी यहां बोया है।

2015 में मोदी के यहां अपने पहले दौरे पर आए थे तब UAE सरकार ने इस मंदिर के लिए जमीन देने का एलान किया था। UAE में भारतीय राजदूत नवदीप सूरी के मुताबिक यह मंदिर 55 हजार स्क्वायर मीटर में बनाया जा रहा है। अबू धाबी का पहला और UAE का दूसरा मंदिर अबू धाबी में बनाया जा रहा यह पहला मंदिर है। अभी UAE में सिर्फ एक हिंदू मंदिर है और वह दुबई में है ।

मोदी को दिया गया गार्ड ऑफ ऑनर –
मोदी शनिवार देर शाम यूनाईटेड अरब एमीरेट्स (UAE) पहुंचे। यहां उनका ऑफिशियल वेलकम किया गया। इस दौरान पीएम को गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया गया। इसके बाद उन्होंने प्रिंस ऑफ अबू धाबी शेख मोहम्मद बिन जाएद अल नह्यान से मुलाकात की। मोदी और नह्यान आपस में गले मिले। कुछ ही देर में उनकी यह तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल हो गई। मोदी के स्वागत में तिरंगे के रंग से रोशन हुई इमारतें मोदी के स्वागत में यहां दुनिया की सबसे ऊंची बिल्डिंग बुर्ज खलीफा समेत कई इमारतों को भारतीय तिरंगे के रंग से रोशन किया गया। नवदीप सूरी UAE में भारत के राजदूत हैं। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर इन इमारतों की तस्वीरें पोस्ट कीं।इसके साथ ही सूरी ने कैप्शन लिखा- जब तस्वीरें शब्दों से ज्यादा बोलती हैं।