आखिरकार योगी सरकार को कहना ही पढ़ा, ‘ताज महल हमारी शान है’

लखनऊ। एक ही दिन में योगी सरकार को अपने किये का एहसास हो गया | पर्यटन बुक लेट से ताजमहल को निकालने के बाद चौतरफ़ा किरकिरी के बीच अब योगी सरकार ने ताजमहल को भारत की शान बताया है | आज पत्रकार वार्ता कर योगी सरकार की मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि 156 करोड़ से ताजमहल का होगा विकास | उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग की ओर से विश्व पर्यटन दिवस पर जारी की गई बुकलेट ‘उत्तर प्रदेश पर्यटन-अपार संभावनाएं’ में ताजमहल को जगह नहीं दी गई है। इस मामले में किरकिरी होने के बाद राज्य सरकार ने बयान देते हुए कहा कि विश्व बैंक के सहयोग से संचालित प्रो-पुअर टुरिज्म योजना के तहत इसका विकास करेंगे। उत्तर प्रदेश की पर्यटन मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने कहा है कि राज्य सरकार विश्व विख्यात ताज महल तथा उससे जुड़े पर्यटक स्थलों के विकास के लिए प्रतिबद्ध है।

इस मामले पर आज पर्यटन मंत्री डॉ. रीता बहुगुणा जोशी ने मीडिया को संबोधित किया। उन्होंने ताज और आस-पास के इलाकों में विकास कार्य को लेकर बात की। विधानभवन में पर्यटन मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि ताजमहल हमारी शान है। ताजमल हमारी सांस्कृतिक विरासत है। हमने ताजमहल के लिए करोड़ों रुपया दिया है। जिससे कि आगरा को और विकसित और खूबसूरत बनाया जाये। उन्होंने कहा कि ताजमहल व आगरा का विकास भारत सरकार एवं प्रदेश सरकार की प्राथमिकताओं में शामिल है। आगरा में अवस्थापना सुधार एवं ताज महल व उसके आसपास के क्षेत्र के विकास के लिए 154 करोड रुपए की योजनाएँ स्वीकृत हैं। परियोजनाओं में अगले तीन महीने में काम शुरू हो जाएंगे। आगरा को स्मार्ट सिटी मिशन के तहत विकसित कराया जा रहा है। प्रदेश सरकार यहां मेट्रो रेल के संचालन के लिए प्रभावी कार्रवाई कर रही है ।