11वीं के छात्र को हिरासत में लिया, जानिए, क्या है पूरा मामला

नयी दिल्ली। सीबीआई द्वारा हिरासत में लिए गए छात्र के पिता ने कहा कि उनका बेटा निर्दोष है सीबीआई पहले ही उससे 4-5 बार पूछताछ कर चुकी है यहां तक की गुरुग्राम पुलिस भी जांच के दौरान सीआरपीसी की धारा 164 के तहत उसका बयान दर्ज करा चुकी है उनके बेटे ने ही टॉयलेट के पास स्कूल के माली को सबसे पहले देखा था।

गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में हुए प्रद्युम्न मर्डर केस में एक नया मोड़ आ गया है इस मामले की जांच कर रही सीबीआई ने स्कूल के ही 11वीं के एक छात्र को हिरासत में लिया है हत्या के इस मामले में छात्र से हिरासत में पूछताछ की जा रही है सीबीआई की गिरफ्त में आरोपी बस कंडक्टर अशोक कुमार पहले से ही है।

उन्होंने कहा कि उनका बेटा रेयान स्कूल में दूसरी क्लास से पढ़ रहा है उनके बेटे को इस मामले में फंसाया जा रहा है सीबीआई ने उसे पूछताछ के लिए मंगलवार की रात 9 बजे बुलाया था उसके बाद वह वापस नहीं आया है इसके खिलाफ वह गुरुग्राम कोर्ट जाने की तैयारी कर रहे हैं वहीं प्रद्युम्न के पिता ने इस जानकारी से इंकार किया है।

इस वारदात के बाद सबसे पहले बस कंडक्टर अशोक कुमार को ही गुरुग्राम पुलिस ने गिरफ्तार किया था उस वक्त आरोपी ने हत्या की बात कबूल की थी लेकिन बाद में वह अपने बयान से पलट गया था उसने कहा था कि दबाव में आकर उसने हत्या की बात स्वीकार की थी इसके बाद भारी दबाव के बीच इस मामले की जांच सीबीआई को दी गई थी।