अलीगढ में जहरीली शराब से अबतक 11 की मौत, तीन अधिकारी निलंबित, पुलिस की छापेमारी जारी

अलीगढ | उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले में एक बार फिर से जहरीली शराब ने कहर बरपाया है। दो थाना इलाकों में दो ट्रक ड्राइवर समेत 11 लोगों की मौत हो गई है। जबकि 12 लोग अभी अस्पताल में भर्ती हैं। इनमें से कई की आंखों की रोशनी जाने की बात सामने आ रही है। वहीं, सीएम ने मामले का संज्ञान लिया है और दोषियों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

इस बीच अलीगढ़ प्रकरण में आबकारी विभाग के तीन अधिकारियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है और विभागीय कार्रवाई प्रचलित की है। निलंबित किए गए अधिकारियों के नाम धीरज शर्मा, जिला आबकारी अधिकारी, राजेश कुमार यादव, आबकारी निरीक्षक क्षेत्र-3, अलीगढ़ और अशोक कुमार, प्रधान आबकारी सिपाही क्षेत्र-3 अलीगढ़ हैं। अलीगढ में दोषी शराब माफ़ियों के खिलाफ पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है |

बता दें कि मामला अलीगढ़ जिले के लोधा थाना इलाके के करसुआ, निमाना, हैवतपुर और अंडला गांव का है। बताया जा रहा है कि जिला मुख्यालय से 10 किलोमीटर आईओसी का गैस बोटलिंग प्लांट है। प्लांट के ठीक सामने करसुआ और अंडला गांव हैं। दोनों गांवों में एक ही ठेकेदार के दो छोटे ठेके हैं। गुरुवार को लोगों ने यहां से शराब खरीदकर पी थी। शराब पीने के बाद अचानक लोगों की तबीयत बिगड़ने लगी। जिससे अब तक 8 लोगों की मौत हो चुकी है। जिनमें दो ट्रक ड्राइवर शामिल हैं।