वाराणसी में PM मोदी के खिलाफ 101 उम्मीदवार, महागठबंधन से तेजबहादुर की एंट्री ने बड़ाया सियासी तापमान

बनारस । वाराणसी संसदीय सीट से कुल 102 प्रत्याशियों ने नामांकन दाखिल किया है। अंतिम दिन सोमवार को देररात 11.30 बजे तक पर्चा दाखिला चलता रहा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र होनेे के कारण ऐसे तमाम लोगों ने भी नामांकन किया, जिन्हें चुनाव के बहाने अलग संदेश देना है। इस प्रकार 101 उम्मीदवार मोदी को चुनौती देंगे। बनारस संसदीय सीट पर नामांकन के अंतिम दिन सोमवार को 71 उम्मीदवारों ने पर्चे दाखिल किए। इस दौरान कलक्ट्रेट परिसर स्थित नामांकन स्थल रायफल क्लब के आसपास भारी गहमागमी रही। जिला निर्वाचन अधिकारी सुरेन्द्र सिंह के मुताबिक बनारस संसदीय सीट से कुल 102 उम्मीदवारों ने अलग-अलग सेट में 199 नामांकन पत्र दाखिल किया है। मंगलवार को नामांकन पत्रों की जांच होगी। 2 मई को नाम वापसी के बाद तय होगा कि बनारस के रण में कितने उम्मीदवार होंगे।

नामांकन करने वालों में प्रमुख रूप से कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय, सपा की शालिनी यादव, प्रख्यात हॉकी खिलाड़ी व पद्मश्री मो. शाहिद की बेटी हिना शाहिद शामिल रही। निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में अतीक अहमद का पर्चा उनके भतीजे शहनवाज आलम ने दाखिल किया। इसके अलावा तेलंगाना से आए हल्दी किसानों के प्रतिनिधि कुंटा गंगाराम मोहन रेड्डी के साथ कई अन्य किसानों ने पर्चा दाखिल कर सियासत गर्मा दिया है।

कलक्ट्रेट में देर रात तक गहमागहमी-
नामांकन का समय सुबह 11 से अपराह्न तीन बजे तक था। लेकिन दो बजते-बजते प्रत्याशियों एवं उनके प्रस्तावकों की लंबी कतार लग गई। रात नौ बजे तक करीब 60 लोगों के पर्चे दाखिल हो चुके थे। जबकि एक दर्जन लोग लाइन में लगे थे। इस दौरान दावेदारों एवं समर्थकों के उत्साह बना रहा। कलक्टे्रट परिसर में देर रात तक भारी गहमागहमी रही। रात 11.30 बजे अंतिम नामांकन दाखिल हुआ।

कलक्ट्रेट परिसर में पहुंचे समर्थक-
तमाम पाबंदी के बावजूद समर्थकों का हुजूम कलक्टे्रट परिसर में पहुंच गया। इस दौरान जिला मुख्यालय पर समर्थकों की भारी भीड़ एवं कलक्टे्रट परिसर में घुसने से रोकने में पुलिस को कई बार कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। बावजूद इसके कांग्रेस, सपा के तमाम समर्थक एवं कार्यकर्ता अंदर पहुंच गए। .

सपा का सिंबल लेकर पहुंचे तेज बहादुर-
बनारस से चुनाव लड़ने पहुंचे बीएसएफ के बर्खास्त सिपाही तेज बहादुर को लेकर दोपहर में समाजवादी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता मनोज राय धूपचंडी रायफल क्लब पहुंचे। उन्होंने पार्टी की ओर से तेज बहादुर को अधिकृत प्रत्याशी घोषित किए जाने की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पार्टी की ओर से जारी सिंबल तेज बहादुर ने जमा कर दिया है। उसके बाद तरह-तरह की चर्चाएं शुरू हो गई। .

पर्चा दाखिल करने वाले अन्य उम्मीदवार –
अंतिम दिन पर्चा दाखिल करने वालों में सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी सुरेंद्र, रामराज्य परिषद श्रीभगवान पाठक, राष्ट्रीय बंधुत्व पार्टी से जम्मू के छज्जू राम गुप्ता, फिरोजाबाद की प्रीति मिश्रा, भारती ने इंसाफवादी पार्टी से मिर्जापुर के जय प्रकाश, लोकप्रिय समाज पार्टी से रोहनिया के छेदीलाल समेत कुल 71 लोग शामिल हैं।

जुलूस में कांग्रेस ने किया शक्ति प्रदर्शन-
नामांकन के अंतिम दिन सोमवार को कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय ने अपना दमखम दिखाया। उनका नामांकन जुलूस पीलीकोठी स्थित आजाद पार्क से निकला। इससे पहले उन्होंने शूलटंकेश्वर स्थित शिव मंदिर में पूजन-अर्चन किया। इसके बाद लंका स्थित महामना मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। इसके बाद वह पीलीकोठी स्थित आजाद पार्क से खुले वाहन पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर, विधानमंडल दल के नेता लल्लू सिंह, प्रदेश महासचिव सतीश चौबे और जिलाध्यक्ष प्रजानाथ शर्मा के साथ सवार हुए। यहां पर बुनकर समाज के लोगों उनकी दस्तारबंदी की। अजय राय जिस वाहन पर चल रहे थे, उसके आगे कई बाइकों पर युवा हाथ में कांग्रेस का झंडा लिए हुए नारेबाजी करते चल रहे थे। ढोल-नगाड़े भी बजे। पीछे चल रहे वाहनों पर बड़े- बड़े स्पीकर लगे हुए थे। कुछ वाहनों पर अपना दल (कृष्णा पटेल) का झंडा था। रास्ते में कई स्थानों पर उनका स्वागत किया। प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर भीड़ की तरफ माला-फूल फेंक कर उत्साह बढ़ा रहे थे। 10.30 बजे पीलीकोठी से निकला नामांकन जुलूस करीब सवा बारह बजे लहुराबीर स्थित आजाद पार्क, तेलियाबाग, नदेसर होते हुए आम्बेडकर पार्क तक पहुंचा। यहां पर भी कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया। नामांकन जुलूस में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राजेशपति त्रिपाठी, दुर्गाप्रसाद गुप्त, प्रो.सतीश राय, महानगर अध्यक्ष सीताराम केशरी, मणिन्द्र मिश्र, राघवेंद्र चौबे, मंगलेश सिंह, मनीष चौबे, शैलेंद्र सिंह, विकास सिंह, संजय सिंह डॉक्टर, डॉ.नृपेंद्र नारायण सिंह आदि मौजूद थे। अपना दल (कृष्णा पटेल) की ओर से गगन यादव आदि भी शामिल थे। .