आगरा: कवि गोपालदास नीरज वेंटिलेटर पर # हालत गंभीर

अलीगढ़ |मशहूर कवि और गीतकार पद्मभूषण गोपालदास नीरज की तबीयत मंगलवार को अचानक बिगड़ गई। जिसके बाद उन्हें आगरा के एक निजी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। डॉक्टरों के मुताबिक 94 साल के नीरज को चेस्ट में इंफेक्शन और सांस लेने में दिक्कत है।

नीरज के साथ पूर्व पार्षद व उनकी बेटी कुंदनिका शर्मा हैं। कल रात ही वे अलीगढ़ से आगरा आए थे। नीरज जी से किसी को मिलने नहीं दिया जा रहा। डॉक्टर का कहना है उनकी हालत स्थिर है। सांस लेने में उन्हें तकलीफ हो रही है।

अखिलेश उनसे मिलने जल्द पहुंच सकते हैं। फिलहाल वे रामजीलाल सुमन के घर पर उन्हें सांत्वना देने पहुंचे हैं। उनकी पत्नी का हाल ही में देहांत हुआ था।
महाकवि नीरज का जन्म इटावा जिले के ग्राम पुरावली में हुआ था। आज भले ही वो सहारा लेकर चलते हों लेकिन उम्र के इस पड़ाव पर पहुंचकर भी उनका लेखन और सामाजिक गतिविधियों में योगदान जारी है। उनके द्वारा लिखे गए कई नायाब गीत आज भी कर्णप्रिय हैं। उप्र सरकार द्वारा उन्हें भारत भारती सम्मान से नवाजा जा चुका है। नीरज आज भी कवि सम्मेलनों में मंच पर अपनी रचनाओं का जादू बिखेरते हैं। उनकी तबियत बिगड़ने की खबर से उनके चाहने वाले खासे चिंतित हो गए।