UP के स्वास्थ्य मंत्री को हुआ कोरोना, राजधानी लखनऊ में हालात बेकाबू

लखनऊ | यूपी की राजधानी में कोरोना बेकाबू है | पूरे देश में कोरोना संक्रमण बेकाबू हो चुका है। जांच में बड़ी संख्या में मरीज सामने आ रहे हैं। शुक्रवार को प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। वह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ लगातार बैठकों में शामिल हो रहे थे।

इसके पहले गुरुवार को राजधानी में तीन बुजुर्गों समेत छह लोगों की इलाज के दौरान मौत हो गई। इनमें तीन लखनऊ के व तीन दूसरे जिलों के मृतक हैं। इसके अलावा उन्नाव के पूर्व सांसद समेत 307 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। इसमें हिंदुस्तान ऐरोनॉटिक्स लिमिटेड के मुख्य पर्यवेक्षक समेत आरबीआई के गार्ड और पुलिस लाइन के कई पुलिस कर्मियों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। वहीं, हजरतगंज स्टेट बैंक के 11 कर्मचारी भी संक्रमित मिले हैं। इसके अलावा सचिवालय में एक कैंटीन कर्मी और कोरोना पॉजिटिव मिला है। अब शहर में कोरोना मरीजों की संख्या 5426 हो गई है। वहीं, 161 मरीजों ने कोरोना से जंग जीती है।

राजाजीपुरम निवासी 45 वर्षीय बैंककर्मी की कोरोना से मौत हो गई। मरीज का इलाज एरा मेडिकल कॉलेज में चल रहा था। इसी इलाके के 85 वर्षीय बुजुर्ग की भी कोरोना से मौत हो गई। केजीएमयू प्रवक्ता डॉ. सुधीर सिंह के मुताबिक, बुजुर्ग को 13 जुलाई को भर्ती कराया गया था। डायबिटीज व ब्लड प्रेशर की परेशानी भी थी। पूर्व में दिल का वॉल्व भी बदला गया था। इसके अलावा गोसाईंगंज निवासी 60 वर्षीय पुरुष ने कोरोना की वजह से दम तोड़ दिया। मरीज को बुधवार को केजीएमयू के कोविड वार्ड में भर्ती कराया गया था।