मोदीराज : J&K में CRPF जवानों की बस पर आतंकी हमला, 20 जवान शहीद, देशभर में शोक की लहर

जम्मू-कश्मीर | जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में गुरूवार को जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी ने विस्फोटकों से लदे वाहन से सीआरपीएफ जवानों की बस को टक्कर मार दी, जिसमें कम से कम 20 जवान शहीद हो गये। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि आतंकवादी संगठन ने इस घटना की जिम्मेदारी ली है। 2016 में हुए उरी हमले के बाद इसे अब तक का सबसे बड़ा आतंकी हमला माना जा रहा है। हमले से देश में शोक की लहर है |

पुलिस ने आतंकवादी की पहचान पुलवामा के काकापोरा के रहने वाले आदिल अहमद के तौर पर की है। उन्होंने बताया कि अहमद 2018 में जैश-ए-मोहम्मद में शामिल हुआ था।हताहतों की संख्या अभी और बढ़ने की आशंका है। विस्फोट में कई लोग घायल हो गये। धमाका इतना जबरदस्त था कि बस के परखच्चे उड़ गए और आस पास बिखरे क्षत-विक्षत शवों को देखा जा सकता है। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि विस्फोट की घटना श्रीनगर जम्मू राजमार्ग पर अवंतिपुरा इलाके में हुई।

कांग्रेस ने जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में हुए आतंकी हमले की निंदा करते हुए बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता करने का सिलसिला लगातार जारी है।   पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा, ” हम पुलवामा में कायराना आतंकी हमले की निंदा करते हैं। सर्वोच्च बलिदान देने वाले अपने 18 बहादुर जवानों को हमारी श्रद्धांजलि। हम उनके परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट करते हैं।”  उन्होंने आरोप लगाया, ”उरी, पठानकोट, पुलवामा। मोदी सरकार द्वारा राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता किया जाना लगातार जारी है।”