सपा विधायक की बजी फोन की घंटी, तीन घंटे कोर्ट ने लिया कस्टडी में

मुरादाबाद के कुंदरकी से सपा विधायक हाजी रिजवान को कोर्ट कस्टडी में रहना पड़ा।अदालत ने तीन घंटे कस्टडी में रख बाद में रिहा कर दिया। शनिवार को एडीजे-दो कोर्ट बारह साल पुराने मामले में कुंदरकी के विधायक हाजी रिजवान को तलब किया था। विधायक पर अप्रैल, 2007 में वोट डालने का विरोध करने का आरोप है।

वादी ने विधायक समेत कई लोगों पर वोट डालने से रोकने के लिए लाठी डंडों से मारपीट का मुकदमा दर्ज कराया था। संगीन धाराओं में आरोपी विधायक 2008 से हाई कोर्ट से जमानत पर है। अब जमानत की अवधि बीतने पर कोर्ट ने जवाब देने के लिए तलब किया। आज जब सुनवाई चल रही थी तभी विधायक का फोन बज गया। नाराज कोर्ट ने विधायक को कस्टडी में लेने के आदेश दिए। कस्टडी में रहने के तीन घंटे बाद उन्हें रिहा किया गया।