UP विधानसभा में पहले ही दिन जमकर हंगामा, सपा-कांग्रेस विधायकों ने किया प्रदर्शन

लखनऊ | उत्तर प्रदेश विधान मंडल के बजट सत्र का पहला दिन हंगामे और विरोध प्रदर्शन के शोर-शराबे के साथ शुरू हुआ। गुरुवार सुबह से ही विधान भवन परिसर के बाहर समाजवादी पार्टी और कांग्रेस नेता बैनर पोस्टर लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। सभी लोग विधानसभा भवन में चौधरी चरण सिंह की मूर्ती के सामने महंगाई, नागरिकता कानून, एनआरसी और किसान उत्पीड़न के विरोध में धरने पर बैठे हैं।

आज साल का पहला सत्र होने के नाते इसकी शुरूआत राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के अभिभाषण के साथ हुई। आज राज्यपाल ने दोनों सदनों की संयुक्त बैठक को संबोधित किया। इसीलिए कानून व्यवस्था, महंगाई, सीएए, एनआरसी और किसानों की समस्याओं जैसे मुद्दों को लेकर यहां विपक्षी नेता योगी आदित्यनाथ सरकार को घेरने की कोशिश में लगे हुए हैं। इससे पहले सदन के पहले सत्र को व्यवस्थित तरीके से चलाने के लिए बुधवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई गई थी। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विभिन्न दलों के नेताओं से सहयोग करने का आग्रह किया था, लेकिन विपक्ष की ओर से जनता के मुद्दों पर सुनवाई करने को लेकर जोर दिया गया।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा था कि सरकार हर मुद्दे पर चर्चा करने को तैयार है। सदन महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा का मंच उपलब्ध कराता है। राज्यपाल के अभिभाषण पर विपक्ष और सत्ता पक्ष को अपनी बात खुलकर रखने का अवसर मिलेगा।