अकाउंटेंट को लड़कियों से गंदी बात करने का था शौक, मालिक को लगाया 2 करोड़ का चूना, ऐसे खुला राज-

नई दिल्ली । सोशल मीडिया पर लड़कियों से अश्लील चैट करना एक व्यक्ति को भारी पड़ गया है। दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने एक ऐसे व्यक्ति को गिरफ्तार किया है जिसने ऑनलाइन ऐप के जरिये लड़कियों से अश्लील चैटिंग के लिए कथित तौर पर अपने मालिक (नियोक्ता) के 2 करोड़ रुपये का गबन किया था। आरोपी की पहचान दिल्ली के बुराड़ी निवासी 42 वर्षीय महेश चंद बडोला के रूप में हुई है। उसके खिलाफ करोल बाग थाने में आईपीसी की धारा 408 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है।

आर्थिक अपराध शाखा के अनुसार, शिकायतकर्ता दिनेश कुमार गोगना ने मैसर्स एम.सी. ज्वैल्स प्राइवेट लिमिटेड की ओर से करोल बाग थाने में बडोला और शरद अग्रवाल के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। यह भी आरोप लगाया गया है कि आरोपी महेश चंद बडोला 17 साल से मैसर्स एमसी. ज्वैल्स प्राइवेट लिमिटेड का कर्मचारी था। शुरुआत में, उन्हें एक एकाउंटेंट का काम सौंपा गया था और उन्होंने कंपनी के मालिकों का विश्वास प्राप्त किया। इस कारण व्यवसाय से संबंधित भुगतान करने के लिए कंपनी ने उसे कंपनी के एचडीएफसी डेबिट कार्ड सौंप दिए थे।

पेटीएम से किया भुगतान-
शिकायत के अनुसार, उक्त बैंक खाते से जुड़े फोन नंबर का इस्तेमाल बडोला द्वारा अपने आधिकारिक फोन नंबर के रूप में किया जा रहा था। बैंक खाते की जांच के दौरान, शिकायतकर्ता कंपनी ने पाया कि अप्रैल 2019 को दो करोड़ से अधिक की राशि का भुगतान पेटीएम के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन के रूप में किया गया था। आगे की जांच के लिए मामला ईओडब्ल्यू को हस्तांतरित कर दिया गया। जांच के दौरान, PayTM ने पुष्टि की कि मैसर्स एम.सी. ज्वैल्स प्राइवेट लिमिटेड के खाते से फंड को Badola के PayTM खाते में ट्रांसफर किया गया था, जिसका उपयोग आगे चीनी ऐप BIGO पर बनाई गई आईडी को रिचार्ज करने के लिए किया गया था। यह चीनी कंपनी ऑनलाइन लाइव चैट की सुविधा देती है।

गिरफ्तारी से बचने को जांच टीम को देता रहा चकमा-
मामले का खुलासा होने के बाद आरोपी बडोला जांच एजेंसी को चकमा देता रहा और गिरफ्तारी से बचता रहा। पुलिस ने उसे एक घोषित अपराधी घोषित करते हुए आरोपी का इलेक्ट्रॉनिक डेटा एकत्र किया और उसकी तलाश में दिल्ली और यूपी के कई स्थानों पर निगरानी बनाए रखी और फिर सटीक सूचना मिलने के बाद उसे बुरारी में उसके ठिकाने से गिरफ्तार कर लिया।

अश्लील लाइव चैट करने का आदी-
पुलिस की पूछताछ के दौरान बडोला ने खुलासा किया कि वह BIGO ऐप के माध्यम से अश्लील लाइव चैट करने का आदी है। उसने अन्य यूजर्स (लड़कियों और लड़कों) के साथ ऑनलाइन चैट करने के लिए BigoLive पर अपना रजिस्ट्रेशन भी कराया था। उसने अपने पेटीएम अकाउंट से BIGO लाइव की अपनी आईडी रिचार्ज की। हालांकि, इस्तेमाल नहीं गई रकम को पेओनर (एक अन्य ऑनलाइन भुगतान आवेदन) के माध्यम से वापस ले लिया गया था।