इगलास विधानसभा उपचुनाव को RLD ने भरी हुंकार, बैठकों में न आने वाले नेताओं पर कार्यवाही की भी उठी मांग

अलीगढ | लोकसभा चुनाव के बाद राष्ट्रीय लोकदल की पहली समीक्षा बैठक खेरेश्वर चौराहे स्थित एक लॉज में हुई जिसमे चुनाव परिणामो पर चर्चा हुई | बैठक में इगलास विधानसभा पर होने वाले उपचुनाव को लेकर भी रणनीति तय की गई | रालोद ने इगलास विधानसभा चुनाव में पार्टी प्रत्याशी को जिताने और बूथ स्तर पर कार्यकर्ता बनाने पर चर्चा की | बैठक में एकमत होकर रालोद के उपचुनाव लड़ने का प्रस्ताव भी किया गया | बैठक में संगठन को लेकर भी चर्चा हुई | 

पूर्व विधायक भगवती प्रसाद ने कहा कि इगलास विधानसभा चुनाव पार्टी की नाक का सवाल है, इसे जीतकर रालोद की साख बचानी है | उन्होंने कहा कि अभी से तैयारी करनी होगी और पार्टी जिसे लड़ाई उसे चुनाव लड़ना होगा | रालोद जिलाध्यक्ष रामबहादुर चौधरी ने कहा कि पार्टी नेतृत्व को इगलास विधानसभा उपचुनाव को लेकर रिपोर्ट भेज दी है | पार्टी ने इगलास विधानसभा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है | भाजपा को इगलास पर हराकर रहेंगे | पार्टी नेतृत्व जिसे टिकट देगा उसे जिताकर भेजेंगे |  उन्होंने कहा कि इगलास रालोद का गढ़ रहा है, उसे वापिस लेकर रहेंगे |
पूर्व मंत्री चौ महेंद्र सिंह और  महानगर अध्यक्ष अनीस चौहान ने कहा कि रालोद किसानो, युवाओं और मजदूरों का  दल है | इगलास उपचुनाव में जी-जान से जुटेंगे और भाजपा को हराकर रहेंगे | 

महानगर प्रवक्ता जियाउर्रहमान एडवोकेट ने कहा कि पार्टी के कई बड़े पदाधिकारी और नेता बैठकों में नहीं आते, फोटो की नेतागिरी करते हैं, गुटबाजी करते हैं ऐसे लोगों पर कार्यवाही की जरुरत है | उन्होंने कहा कि जमीनी नेताओं को महत्त्व देने और संगठन में जोड़ने से ही पार्टी मजबूत होगी | जियाउर्रहमान ने कहा कि बैठकों और कार्यक्रमों में न आने वाले नेताओं की जवाबदेही तय  होनी चाहिए | बैठक की अध्यक्षता मास्टर केवल सिंह ने की | सञ्चालन फूल सिंह धनगर ने किया |

इस अवसर पर जिलाध्यक्ष रामबहादुर चौधरी, पूर्व विधायक भगवती प्रसाद, पूर्व मंत्री चौ महेंद्र सिंह, प्रवक्ता जियाउर्रहमान एडवोकेट, महानगर अध्यक्ष अनीस चौहान, प्रदेश उपाध्यक्ष सीपी सिंह धनगर,  उपाध्यक्ष रिजवान चौहान, सुनील रोरिया, नरेंद्र सिंह, अजब सिंह, मुकेश धनगर, रामवीर सिंह, सत्यवीर सिंह, फूल सिंह धनगर, सत्यवीर शर्मा, उमेश चौधरी , मयंक चौधरी, राजपाल सिंह, रामवीर दिवाकर, तीर्थराज सिंह, प्रताप प्रधान आदि मौजूद रहे |