पूर्व मंत्री ठाकुर जयवीर सिंह के परिवार में विद्रोह, अरविन्द गौतमबुद्ध नगर से लड़ेंगे लोकसभा चुनाव, पिता बोले- ‘कांग्रेस ने रचा राजनैतिक षड्यंत्र’

अलीगढ़ । सूबे की राजनीति में कद्दावर नेता और भाजपा के एमएलसी पूर्व मंत्री ठाकुर जयवीर सिंह के परिवार में विद्रोह हो गया है । उनके बड़े बेटे ठाकुर अरविंद सिंह ने पिता और परिवार के खिलाफ राजनैतिक विद्रोह कर दिया है । पिता जहां भाजपा से एमएलसी हैं तो वहीं अरविंद सिंह को कांग्रेस ने गौतमबुद्ध नगर से लोकसभा उम्मीदवार बनाया है । अरविंद के कांग्रेस से उम्मीदवार बनते ही ठाकुर जयवीर सिंह को भाजपा के उनके विरोधी नेताओं ने निशाने पर ले लिया है । अब ठाकुर जयवीर से खुला पत्र जारी कर अरविंद सिंह से सामाजिक और राजनैतिक संबंध खत्म होने और इसे कांग्रेस का राजनैतिक षड्यंत्र बताया है । उन्होंने कहा है कि वह और उनका परिवार भाजपा में हैं और पीएम मोदी के साथ है ।

पढ़िए ठाकुर जयवीर सिंह का खुला पत्र-

मेरा संपूर्ण परिवार, मेरी धर्म पत्नी पूर्व सांसद राजकुमारी चौहान जी, पुत्र अभिमन्यु सिंह समेत तीनों पुत्र एवं भतीजा उपेंद्र सिंह नीटू (जिला पंचायत अध्यक्ष) सभी भारतीय जनता पार्टी के प्रति संपूर्ण निष्ठा के साथ समर्पित हैं। भारतीय जनता पार्टी एवं माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की जनकल्याण नीतियों के प्रति हमारी सच्ची प्रतिबद्धता है। परंतु मेरे पुत्र अरविंद कुमार सिंह का 2 वर्ष से उनके विवाह उपरांत ही हमारी विचारधारा के प्रति विद्रोह प्रकट होने लगा था और वो परिवार से अलग रहने लगे थे। जब मैंने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की थी उस काल में भी भाजपा एवं उनकी नीतियों से वह विमुख थे जिसके फलस्वरूप वो पार्टी के सदस्य नहीं बने थे। अतः उन्हें यूनिवर्सिटी के कुलाधिपति (चांसलर ) के सर्वोच्च पद से कार्यमुक्त कर दिया गया था। अब उनके साथ सभी सामाजिक और राजनीतिक संबंधों पर पूर्ण विराम लग चुका है। कांग्रेस ने मेरे परिवार के राजनीतिक मतभेदों का फायदा उठाते हुए यह कूटनीतिक चाल एवं राजनीतिक षडयंत्र रचा है। मैं और मेरा शेष परिवार माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी की कल्याणकारी नीतियों के घनघोर समर्थक ही नहीं अपितु उनका अक्षरशः पालन करने हेतु कृत्संकल्प है और भविष्य में भी भारतीय जनता पार्टी के एक समर्पित कार्यकर्ता के रूप में अपनी कटिबद्धता और निष्ठा प्रमाणित करते रहेंगे ।