अलीगढ में हैरतअंगेज मामला, लॉकडाउन में प्रेग्नेंट पत्नी को मायके छोड़ प्रेमिका से कर ली शादी, ऐसे खुला राज-

अलीगढ | अलीगढ़ में छर्रा क्षेत्र के गांव डोरई निवासी युवक ने लॉकडाउन में ¸पत्नी को मायके मैनपुरी भेज दिया और पड़ोसी गांव गुलरिया नगला निवासी युवती से शादी कर ली। जब पहली पत्नी ससुराल पहुंची तो उसके होश उड़ गए। आनन-फानन में पुलिस को तहरीर दी जिस पर पुलिस जांच में जुट गई है।

जानकारी के अनुसार गांव छर्रा थाना क्षेत्र के गांव डोरई निवासी युवक धर्मेंद्र सिंह पुत्र देवप्रकाश सिंह की शादी चार साल पूर्व मैनपुरी निवासी हरिश्चंद की पुत्री अनुपम के साथ हुई थी। दहेज में 25 लाख रुपये भी खर्च किया था। लेकिन दहेज से असंतुष्ट धमेँद्र और परिजन अनुपम के साथ मारपीट करते थे और उसे परेशान करने लगे। पीड़िता अनुपमा ने बताया कि उस पर एक बेटी 2 वर्ष,बेटा 1 वर्ष और चार माह का गर्भ में है।

पीड़ित ने बताया कि उसका पति धमेंर्द लॉकडाउन से एक दिन पूर्व उसे मैनपुरी छोड़ आया और फिर उसे लेने नहीं गया। उसने कई बार फोन भी किया लेकिन धर्मेंद्र ने कोई बात उससे नहीं की। वह जब 19 तारीख भाई के साथ ससुराल पहुंची तो शकुंतला पत्नी चंद्रपाल व धर्मेंद्र ने गेट खोला वह जब अंदर पहुंची तो उसने एक लड़की को देखा और पूछा यह कौन है तो उसे बताया कि यह धर्मेंद्र की पत्नी है। यह सुनते ही उसके होश उड़ गए और उसके भाई ने जब कहासुनी की तो उसके भाई को ससुरालीजनों ने मारपीटा और उसने अपने भाई को बचाया तो उसे भी मारपीट कर घर से निकाल दिया। पीड़िता ने सूचना 112 नंबर दी तो पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन यह लोग घर पर ताला लगाकर वहां से फरार हो गए। इस संबंध में इंस्पेक्टर अनिल कुमार का कहना है कि मामले की तहरीर मिल गई है। जांच की जा रही है।