प्रधानमंत्री मोदी ने पत्रकारों से की बात लेकिन सवालों से काटी कन्नी !

नई दिल्ली । लोकसभा चुनाव के आखिरी पड़ाव पर भाजपा ने सबको चौंकाते हुए अचानक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया और इसमें सबसे उल्लेखनीय बात रही कि प्रधानमंत्री मोदी पहली बार पत्रकारों से मुख़ातिब होने के लिए मौजूद रहे। विपक्ष द्वारा लगातार मीडिया के सामने नहीं आने के आरोप झेलने वाले मोदी पहली बार पत्रकारों के सामने उपस्थित तो हुए लेकिन उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में एक भी सवाल नहीं लिया।

मोदी के इस कदम पर राहुल ने चुटकी लेते हुए ट्वीट किया कि ‘‘बधाई मोदी जी। शानदार संवाददाता सम्मेलन। आपने कदम बढ़ाया। शायद अगली बार अमित शाह आपको कुछ सवालों का जवाब देने दें। बहुत अच्छा।’’ जिसके बाद कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘‘मोदी जी की पहली और आख़िरी प्रेसवार्ता- अमित शाह की बैसाखी बना! खोदा पहाड़, निकली चुहिया! एक घंटे का भाषण, पत्रकारों के चेहरे पर थकान, पत्रकारिता पर बहुत सारा प्रवचन। एक भी सवाल नहीं, एक भी जवाब नहीं।’’

नरेंद्र मोदी ने आखिरी चरण से पहले लोकतांत्रिक भारत के इतिहास में एक भी प्रेस कांफ्रेंस न करने वाले पहले प्रधानमंत्री बनने के रिकार्ड को तो नहीं बनाया लेकिन पत्रकार वार्ता के दौरान सवाल पूछे जाने पर सिर्फ मंद-मंद मुस्कान के द्वारा सवाल से किनारा कर लिया। मोदी ने कहा कि सभी सवालों के जवाब भाजपा अध्यक्ष अमित शाह देंगे। दूसरी बार सवाल पूछे जाने पर अमित शाह ने बीच में ही टोकते हुए कहा कि मैंने जवाब दे दिया ना, हर सवाल का जवाब पीएम मोदी दें ये जरूरी नहीं।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 साल में पहली बार प्रेस कॉन्फ्रेंस की और अध्यक्ष अमित शाह भी मौजूद रहे। लेकिन ध्यान देने वाली बात ये है कि प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएम ने अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाईं, फिर से बहुमत का दावा किया लेकिन एक भी सवाल का जवाब देना जरूरी नहीं समझा।