पाकिस्तान : पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पर छात्र ने फेंका जूता

नई दिल्ली । पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ पर लाहौर में एक छात्र ने जूता फेंक दिया। फिलहाल तो पूर्व पीएम नवाज शरीफ बच गए। पुलिस मामले की जांच कर रही है। वहीं पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में पार्टी कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को संबोधित कर रहे विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ के चेहरे पर किसी व्यक्ति ने स्याही पोत दी। स्याही लगाने वाले का आरोप है कि आसिफ की पार्टी ने पैगंबर मोहम्मद के इस्लाम के अंतिम नबी होने की मान्यता को संविधान के माध्यम से बदलने की कोशिश की है, जिससे उसकी भावनाएं आहत हुई हैं।

गौरतलब है कि पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने पद से हटाए गए प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के खिलाफ भ्रष्टाचार के मुकदमों को पूरा करने की समय सीमा और दो महीने बढ़ा दी। भ्रष्टाचार रोधी कोर्ट में शरीफ और उनके परिजन के खिलाफ पनामा पेपर्स कांड में मुकदमा चल रहा है। शीर्ष अदालत ने पूर्व वित्त मंत्री इशाक डार के खिलाफ भ्रष्टाचार के मुकदमों के लिए और तीन महीने का समय दिया।

28 जुलाई 2017 को सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) को उनके खिलाफ मुकदमों की कार्यवाही छह महीने के भीतर पूरी करने का आदेश दिया था। इसी के तहत एनएबी ने शरीफ, उनके परिजनों और डार के खिलाफ चार मुकदमे दर्ज किए। निचली अदालत में 14 सितंबर 2017 को मुकदमा शुरू हुआ और 13 मार्च को समय सीमा खत्म हो रही थी। लेकिन समय पर मुकदमा पूरा नहीं होने को देखते हुए एनएबी प्रोसिक्यूटर जनरल ने सुप्रीम कोर्ट से समय सीमा बढ़ाने की मांग की। उनकी दलील सुनने के बाद कोर्ट ने समय सीमा ब़़ढाने की मंजूरी दे दी।