दुखद : उर्दू के साहित्यकार पद्मश्री काज़ी अब्दुल सत्तार का निधन, शोक की लहर

अलीगढ़ । उर्दू के साहित्यकार पद्मश्री काज़ी अब्दुल सत्तार (85) नहीं रहे। उनकी रविवार को देर रात दिल्ली में उपचार के दौरान मौत हो गई। सोमवार को शाम चार बजे उनके शव को एएमयू कब्रिस्तान में सुपर्द-ए- खाक किया जाएगा। उर्दू के प्रख्यात साहित्यकार पद्मश्री प्रोफेसर काजी अब्दुल सत्तार का रविवार रात उपचार के दौरान दिल्ली के सर गंगा राम अस्पताल में निधन हो गया। वह 85 वर्ष के थे और पिछले डेढ़ महीने से अस्पताल में भर्ती थे।

एएमयू के उर्दू विभाग से सेवानिवृत्त हुए प्रोफेसर काजी अब्दुल सत्तार के निधन की खबर से साहित्यकारों में शोक की लहर दौड़ गई है। उत्तर प्रदेश के सीतापुर जनपद में 1933 में उनका जन्म हुआ था।