#RepublicDay2020 : दुनिया ने देखा भारत की महिला शक्ति का प्रदर्शन, तानिया- सीमा और मीना के शौर्य को देश ने किया सलाम

नई दिल्ली । देशभर में गणतंत्र दिवस का राष्ट्रीय पर्व पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। जहां राजपथ पर हुए परेड में भारत ने दुनिया के सामने अपनी सैन्य ताकत से लेकर अपनी विविधता का प्रदर्शन किया। वहीं, इस बार राजपथ पर महिला शक्ति का प्रदर्शन भी देखने को मिला।

सिग्नल कोर में कैप्टन तानिया शेरगिल ने जहां कोर ऑफ सिग्नल की टुकड़ी की अगुवाई की। वहीं, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की शाखा रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) की इंस्पेक्टर सीमा नाग और सीआरपीएफ में हेड कांस्टेबल मीना चौधरी ने भी राजपथ पर नारी शक्ति का प्रदर्शन किया।

जानिए इन वीरंगनाओं के बारे-
कैप्टन तानिया शेरगिल
तानिया शेरगिल अपने परिवार की चौथी पीढ़ी हैं जो सेना में भर्ती हुई हैं। उनके पिता तोपखाने (आर्टिलरी), दादा बख्तरबंद (आर्मर्ड) और परदादा सिख रेजिमेंट में पैदल सैनिक (इन्फेंट्री) के रूप में सेवा दे चुके हैं। तानिया शेरगिल सेना के सिग्नल कोर में कैप्टन हैं। उन्होंने इलेक्ट्रॉनिक्स ऐंड कम्युनिकेशंस में बीटेक किया है। तानिया ने इस बार गणतंत्र दिवस परेड में पुरुषों की टुकड़ी का नेतृत्व किया। इससे पहले पिछले साल कैप्टन भावना कस्तूरी गणतंत्र दिवस पर पुरुषों के टुकड़ी का नेतृत्व कर चुकी हैं।

इंस्पेक्टर सीमा नाग-
इंस्पेक्टर सीमा नाग केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की शाखा रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) में तैनात हैं। जो दुनिया का सबसे बड़ा अर्धसैनिक बल है जिसके रैंक में लगभग 3.25 लाख लोग शामिल हैं। सीमा नाग ने चलती हुई मोटरसाइकिल पर खडे़ होकर राष्ट्रपति को सलामी दी। इससे पहले जब सीमा नाम से राजपथ पर परेड को लेकर पूछा गया था तो उन्होंने कहा कि हम लंबे समय से गणतंत्र दिवस परेड का हिस्सा होने का इंतजार कर रहे थे। हम सभी बहुत उत्साहित हैं।

हेड कांस्टेबल मीना चौधरी- हेड कांस्टेबल मीना चौधरी भी केंद्रीय रिर्जव पुलिस बल (सीआरपीएफ) में तैनात हैं। हेड कांस्टेबल मीना ने हैरतअंगेज तौर पर दोनों हाथों से नौ एमएम की पिस्टल लेकर चलती बाइक पर सावधान की मुद्रा को प्रदर्शित किया।