मस्जिदों में ज्यादा देर तक न रुकें नमाजी, मुस्लिम जरूर पढ़ें अलीगढ़ शहर मुफ्ती की ये अपील-

अलीगढ | कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर शहर मुफ्ती मोहम्मद खालिद हमीद ने कहा कि मस्जिदों में ज्यादा देर तक नमाजी न रुकें। अपने घरों से नमाज पढ़ने के लिए जानमाज भी लाएं, जो संक्रमण से बचाव का मुफीद तरीका होगा।

शहर मुफ्ती ने कहा कि मस्जिदों में जमात के दौरान बनने वाली सफों के बीच एक मीटर से ज्यादा दूरी होनी चाहिए। हालांकि, जमात के दौरान एक-दूसरे नमाजी के बीच जगह खाली होनी चाहिए। जमात की नमाज पढ़ने के बाद कोशिश करें कि बाकी सुन्नत, नफ्ल की नमाज घर पढ़ें।

उन्होंने कहा कि जब तक कोरोना वायरस के संक्रमण की स्थिति सामान्य नहीं होती, तब तक एहतियात बरतने की खास जरूरत है। आज की दिक्कतें, कल राहत में तब्दील हो सकती है। शहर मुफ्ती ने कहा कि कोरोना वायरस के बाद जो हालात बन गए हैं। ऐसे में जरूरतमंदों की मदद सभी को अपने हिसाब से करना चाहिए। वहीं, जो लोग राशन सामग्री की कालाबाजारी कर रहे हैं। सबसे बड़ा गुनाह है, क्योंकि किसी की मजबूरी का फायदा उठाने वाले को अल्लाह तआला माफ नहीं करता है।