मेरठ में बेटा पैदा न होने पर पति ने किया पत्नी और बेटी का कत्ल

मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ जिला में बेखौफ बदमाशों का आतंक चरम पर है। एक महिला पुलिस अधिकारी एसएसपी मंजिल सैनी अपराधों पर लगाम लगाने में नाकाम साबित हो रही हैं। जब से मेरठ की कमान एक महिला आईपीएस अधिकारी के हाथ में दी गई है तब से डबल मर्डर की बाढ़ सी आ गई है। मेरठ पुलिस अपराध नियंत्रण में पूरी तरह से फेल है । मेरठवासियों में अपराधियों का भय काफी हद तक व्याप्त है, कई इलाकों के लोग शाम होते ही खुद को घरों में कैद कर ले रहे हैं। वो घरों में तो रह रहे हैं लेकिन उन्हें बदमाशों के कहर का डर व्याप्त है।

ताजा मामला मेरठ के बहसूमा थाना क्षेत्र का है। यहां बेटा ना पैदा कर पाने पर एक कलयुगी पति ने अपनी पत्नी और 5 साल की मासूम बेटी की धारदार हथियार से निर्मम हत्या कर दी। स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी तो महकमें में हड़कंप मच गया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए। दोहरे हत्याकांड की सूचना मिलते ही पुलिस के आलाअधिकारी, डॉग स्क्वॉड, फिंगरप्रिंट दस्ता और फोरेंसिक एक्सपर्ट टीम भी मौके पर पहुंची और नमूने लिए। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की गहनता से पड़ताल कर रही है। पुलिस ने हत्या के आरोप में आरोपी पति और उसकी मां (मृतका की सास) को गिरफ्तार कर लिया। वारदात से मौके पर तनाव को देखते हुये पुलिस बल तैनात किया गया है।