बागियों को मनाएंगी मायावती, पूर्व मंत्री चौ महेंद्र सिंह और रामवीर उपाध्याय की BSP में हो सकती है वापसी !

लखनऊ | बहुजन समाज पार्टी ने अभी से मिशन 2022 की तैयारियां शुरू कर दी हैं। मैदान में उतरने से पहले बसपा ने अपने को मजबूत करने की दिशा में काम शुरू कर दिया है। इसी सिलसिले में बसपा से बगावत करने वाले पुराने साथियों की घर वापसी की दिशा में काम शुरू किया गया है। इसकी कमान जोनल प्रभारियों को सौंपी गई है। माना जा रहा है कि कांग्रेस से निकाले गए भालचंद्र यादव बसपा में शामिल हो सकते हैं। वहीँ से निष्कसित किये गए अलीगढ के पूर्व मंत्री चौ महेंद्र सिंह और हाथरस के पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय भी बसपा में वापिस हो सकते हैं |

बताते चलें कि एक-एक कर अलग हुए: बसपा में एक दौर ऐसा था कि सभी जातियों के कद्दावर नेता थे, लेकिन धीरे-धीरे एक-एक कर वह अलग होते गए। स्वामी प्रसाद मौर्य व बृजेश पाठक ने बसपा छोड़ भाजपा का दामन थाम लिया। नसीमुद्दीन सिद्दीकी नाराज हुए तो कांग्रेसी हो गए। आरके चौधरी की इतनी नाराजगी बढ़ी कि वह बागी हो गए। कॉडर के नेता इंद्रजीत सरोज सपाई हो गए। अब बसपा ने नीला झंडा छोड़कर गए अपने पुराने नेताओं को मानाने और पार्टी से जोड़ने का कार्य शुरू कर दिया है |