PSO नहीं, बल्कि मोदी जी जान से मारना चाहते हैं : अरविन्द केजरीवाल

नई दिल्ली | दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता विजय गोयल को जवाब देते हुए कहा कि उन्हें उनका निजी सुरक्षा अधिकारी (पीएसओ) नहीं, बल्कि मोदीजी जान से मारना चाहते हैं। केजरीवाल ने शनिवार को दावा किया था कि उन्हें उनका पीएसओ उसी तरह से मार सकता है जैसे पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या हुई थी। उन्होंने कहा था कि भाजपा उनकी जान के पीछे पड़ी हुई है और एक दिन उन्हें जान से मार देगी।

केजरीवाल ने एक चैनल से कहा था, ‘‘भाजपा इंदिरा गांधी की तरह मुझे भी मेरे पीएसओ से ही मरवा देगी। मेरे अपने सुरक्षा अधिकारी भाजपा को रिपोर्ट करते हैं।’’गोयल ने इसी बात को लेकर केजरीवाल पर निशाना बनाते हुए कहा कि अपने ही पीएसओ पर शक करना दुखद है।गोयल ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘यह दुखद है कि आपने अपने पीएसओ पर संदेह कर दिल्ली पुलिस की इज्जत तार-तार कर दी। आपको खुद ही अपना पीएसओ चुन लेना चाहिए और यदि आपको इस संबंध में मेरी मदद चाहिए तो बताइये। मैं आपकी लंबी उम्र की कामना करता हूं।’’ इसका उत्तर देते हुए केजरीवाल ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘मेरे पीएसओ नहीं, बल्कि मोदीजी मुझे मरवाना चाहते हैं।

अरविंद केजरीवाल के इस बयान के बाद उनके धुर विरोध कपिल मिश्रा कहते हैं कि ये बड़े आश्चर्य की बात है कि केजरीवाल को अपने निजी सुरक्षाकर्मियों पर भरोसा नहीं है। कोई भी शख्स जो सुरक्षाकर्मियों के घेरे में रहता है उससे व्यक्तिगत संबंध स्थापित कर लेता है। लेकिन आश्चर्य की बात है कि केजरीवाल जी को अपने गार्ड्स पर भरोसा नहीं है। ऐसे हालात में बेहतर ये है कि वो अपनी हिफाजत के लिए लश्कर की मदद लें।