जयन्त चौधरी का भाजपा पर तंज, बोले- ‘संकट में याद आते हैं भगवान, सत्ता खोने के डर से निकल रहा ‘हे राम’

नई दिल्ली । 2019 चुनाव से ठीक पहले उमड़े भाजपा के राम प्रेम पर राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व सांसद जयन्त चौधरी ने तंज किया है । जयन्त चौधरी ने भाजपा के उमड़ रहे रामप्रेम को धर्म नही बल्कि भय से बताया है । जयन्त चौधरी ने स्पष्ट कहा है कि धर्म और भगवान तभी याद आते हैं जब संकट में हों । जयन्त ने तो यह भी कहा है कि सत्ता खोने के भय के चलते ही राम याद आ रहे हैं । उन्होंने अपने ट्विटर एकाउंट से लिखा है कि सत्ता खोने के भय से राम नहीं, ‘हे राम’ निकल रहा है ।

जयन्त चौधरी ने ट्विटर पर लिखा –
कुछ लोग भय दिखा कर धर्म से जोड़ना चाहते हैं। भगवान का डर दिखा के। इन्हीं को धर्म, भगवान तब याद आते हैं जब संकट हो। भय मेरे नज़र में स्वार्थ से जुड़ा है, धर्म से नहीं। ये राम नहीं, ‘हे राम’ निकल रहा है, क्योंकि भय सत्ता खोने का है!