सूडान कारखाने में भीषण विस्फोट, 6 भारतीयों की मौत 11 लापता

नयी दिल्ली। सूडान में एक सिरेमिक फैक्ट्री के अंदर एलपीजी टैंकर में मंगलवार को हुए विस्फोट में छह भारतीय मारे गए हैं, आठ का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है और 11 लोगों की या तो शिनाख्त नहीं हो पाई है अथवा वह लापता हैं। विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया कि जिस वक्त फैक्ट्री के भीतर विस्फोट हुआ, वहां 58 भारतीय काम कर रहे थे और 33 लोग सुरक्षित हैं। उन्होंने कहा कि 58 भारतीय फैक्ट्री में थे। हमें मिली ताजा जानकारी के अनुसार छह भारतीयों की मौत हो गई। हमें यह भी पता चला है कि 33 भारतीय सुरक्षित हैं, आठ अस्पताल में हैं और 11 भारतीयों की या तो शिनाख्त नहीं हो पाई है अथवा वे लापता हैं।

कुमार ने कहा कि मारे गए लोगों के शव जल्द से जल्द भारत पहुंचाने के लिए सूडान की राजधानी खार्तूम में भारतीय दूतावास स्थानीय अधिकारियों के साथ मिल कर काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार मारे गए भारतीयों के परिवारों के संपर्क में हैं। वहीं नाइजीरिया के तट के नजदीक से मंगलवार को एक नौका से 18 भारतीय नागरिकों को अगवा किए जाने पर कुमार ने कहा कि भारत इस पर नाइजीरिया की सरकार के साथ मिल कर काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि नौका में सवार चालक दल के सदस्यों को बोनी द्वीप के निकट ‘नावे कॉस्टिलेशन’ नौका से अगवा किया गया। कुमार ने कहा कि हम और ब्योरा देने की स्थिति में नहीं हैं क्योंकि यह लोगों की जिंदगियों से जुड़ा मामला है।