बड़ा आरोप : टीम इंडिया को दलाल उपलब्ध कराते हैं लड़कियां – हसीन जहां

नई दिल्ली | भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां का अपने पति पर आरोपों का सिलसिला जारी है। हसीन जहां ने अब अपने आरोपों से बीसीसीआई को भी सकते में डाल दिया है। उन्होंने गुरुवार को आरोप लगाया कि टीम इंडिया के साथ दलाल घूमते हैं, जो खिलाडि़यों को लड़कियां उपलब्ध कराते हैं। हसीन ने एक निजी समाचार चैनल को दिए साक्षात्कार में कहा, ‘देश के लिए मैच खेले जाते हैं, जो हमारे लिए गर्व की बात है। मुझे खुद को भारतीय कहने पर गर्व महसूस होता है। बीसीसीआइ खिलाडि़यों को अपनी जिम्मेदारी पर विदेश ले जाता है। उन्हें पांच सितारा होटलों में ठहराता है लेकिन उसी होटल में दलाल घूमते हैं, जो खिलाडि़यों को लड़कियां मुहैया कराते हैं।’

मोहम्मद शमी एक नंबर के झूठे
हसीन ने कहा कि शमी एक नंबर के झूठे, मक्कार और धोखेबाज हैं। मेरे पास इस बात के सारे सुबूत है कि उन्होंने मेरे साथ धोखेबाजी की है और मुझे प्रताड़ित किया है। जब मुझे उनकी करतूत के सुबूत मिले तो मैंने उनसे अपनी भूल कबूल कर मुझसे माफी मांगने को कहा और बोला कि मुझसे वादा करें कि दोबारा ऐसा नहीं करेंगे। इस पर उन्होंने मुझे धमकियां देनी शुरू कर दीं। उन्होंने मुझे फोन व मैसेज करना बंद कर दिया। हमारी बेबो को भी नहीं देखा और उससे बात तक नहीं की। जब वे धर्मशाला में खेल रहे थे, उस दौरान मैंने ही उन्हें कई बार कॉल किया। उन्होंने कहा कि ज्यादा ड्रामा मत करो। मुझे अपनी जिंदगी जीने दो, अपने आप में रहने दो।

शमी ने कहा, किसी भी जांच को तैयार
मोहम्मद शमी ने गुरुवार को ससुर अहमद हसन से फोन पर वार्ता की थी। इससे दोनों के बीच सकारात्मक बात होने के संकेत मिले थे, लेकिन शाम को वह दिल्ली से घर लौट आए। इससे ऐसा लग रहा है कि सुलह के प्रयासों को झटका लगा है। शमी लगातार पत्नी से सुलह के प्रयास में लगे थे। पारिवारिक सूत्रों के मुताबिक गुरुवार को शमी व उनके ससुर अहमद हसन की फोन पर वार्ता हुई थी। दोनों के बीच हुई लगभग आधे घंटे की वार्ता में सकारात्मक संकेत मिले थे। माना जा रहा था कि दोनों परिवारों के लोग बैठकर आपसी सहमति से मामले को जल्द ही खत्म कर लेंगे। शमी के गुरुवार को भी घर न पहुंचने से कयास लगाए जा रहे थे कि वह सहसपुर से दिल्ली रवाना हो गए हैं। जहां से वह कोलकाता जाएंगे, लेकिन शाम को वह घर लौट आए। वापस लौटने के बाद उन्होंने कहा कि हसीन का मानसिक संतुलन ठीक नहीं है। इसके चलते वह फिक्सिंग का आरोप लगा रही हैं। बीसीसीआइ फिक्सिंग के आरोप की जांच करा सकती है। मैं जांच के लिए तैयार हूं। कहा कि हसीन के साथ मिलकर कोई शख्स मेरा करियर खराब करने की साजिश कर रहा है।