हार्दिक पांड्या ने बताया कि वो कब कर सकते हैं टीम इंडिया में वापसी

टीम इंडिया के मौजूदा समय के सबसे सफल ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या ने अपनी वापसी को लेकर कुछ अहम बातें कही हैं। 2018 एशिया कप के दौरान हार्दिक पांड्या को पीठ में चोट लगी थी, जिसके बाद से वो टीम से अंदर-बाहर होते रहे। हाल में हार्दिक को पीठ की सर्जरी करानी पड़ी जिसके बाद से वो टीम इंडिया से बाहर ही चल रहे हैं। पांड्या सफल सर्जरी के बाद इन दिनों रिहेबिलिटेशन के दौर से गुजर रहे हैं। पांड्या ने बताया है कि वो कब तक क्रिकेट के मैदान पर वापसी करेंगे।

हार्दिक ने बेंगलोर मिरर से बातचीत के दौरान बताया कि उनका सबसे अहम लक्ष्य है कि अगले साल अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी20 विश्व कप में वो टीम इंडिया में वापसी कर लगें। पांड्या ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि वो इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन तक खेलने के लिए पूरी तरह फिट हो जाएंगे और उससे पहले न्यूजीलैंड दौरे पर कुछ इंटरनेशनल मैच खेल सकते हैं।

उन्होंने कहा, ‘अगर मैं अभी से चार महीने का भी ब्रेक लूं तो मैं आईपीएल तक वापसी कर लूंगा, लेकिन न्यूजीलैंड के दौरे पर या उस दौरे के बीच में मैं टीम में वापसी कर सकता हूं। ये प्लान है, कि मैं कुछ इंटरनेशनल मैच खेलूं और फिर आईपीएल खेलूं जिससे मैं ये तय कर सकूं कि मैं आईसीसी टी20 विश्व कप मिस ना करूं। हमने बात की थी और विश्व कप सबसे बड़ा कंसर्न था और फिलहाल सबकुछ सही समय पर हो रहा है।’

हार्दिक ने इस साल अक्टूबर में बैक की सर्जरी कराई। पिछले साल सितंबर में उनको पीठ का दर्द उबरा था, जिसके बाद से वो टीम को 100 फीसदी नहीं दे सके हैं। उन्होंने कहा, ‘मैं इससे किसी तरह निपट रहा था। मैंने हर मुमकिन कोशिश की, लेकिन सबके बाद मुझे समझ में आया कि सर्जरी के अलावा और कोई विकल्प नहीं है। मैं खुद के साथ न्याय नहीं कर रहा था और ना ही टीम के साथ कर पा रहा था। तभी मैंने सर्जरी का फैसला लिया।’

अपनी फिटनेस को लेकर हार्दिक ने कहा, ‘अभी मैंने गेंदबाजी शुरू नहीं की है। मैंने अभी क्रिकेट को लेकर ज्यादा कुछ शुरू नहीं किया है। हम बस इसकी कोशिश कर रहे हैं कि बॉडी मेरी सही जोन में रहे। जब मेरी बॉडी पूरी तरह से तैयार होगी तब मैं क्रिकेट खेलना शुरू करूंगा। मुझे नहीं लगता कि क्रिकेट में इतना समय लगता है। मुझे वापसी को लेकर प्रैक्टिल होकर सोचना होगा क्योंकि एक बार मैं वापस आ गया तो वर्कलोड शून्य से एकदम से बढ़ेगा।’