UP के बुलंदशहर में कोरोना वायरस की आहट से अलर्ट, चीन से आये 10 लोगों पर नजर, रिपोर्ट का इंतजार

बुलंदशहर। कोरोना वायरस का कहर फैलने के बाद जिले में चीन की ओर से आने वाले लोगों की संख्या बढ़ने लगी है। अब तक चीन से 10 लोग जिले में आ चुके है। जिनकी सूचना मिलने पर स्वास्थ्य अफसरों द्वारा कड़ी निगरानी में रखा जा रहा है। वहीं, 10 लोगों में से दो लोगों पर 28 दिन के बाद कोई लक्षण न मिलने पर अफसरों ने राहत की सांस ली है। साथ ही प्रमुख सचिव के आदेश पर शेष आठ लोगों से प्रतिदिन पूछताछ की जा रही है।

कोरोना वायरस से चीन में हाहाकार मचाने के साथ ही अन्य देशों में भी हड़कंप मचा हुआ हैं। देशभर के कई लोगों के साथ जिले के कई लोगों की चीन में आवाजाही लगातार जारी है। इसे देखते हुए एहतियात के तौर पर अफसरों को पूर्व में ही शासन द्वारा अलर्ट जारी कर सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए थे। अब तक जिले में चीन से आठ लोग आ चुके हैं। वहीं, शुक्रवार को चीन की ओर से दो और जिलेवासियों का आगमन हुआ। इससे पहले आठ लोगों पर विभाग द्वारा नजर रखी जा रही है। स्वास्थ्य अफसरों के अनुसार चीन से आने वालों की लिस्ट में अब तक कुल दस लोग ऐसे पहुंचे हैं, जोकि जिले में रह रहे हैं। इनमें दो लोगों की निगरानी 28 दिन की पूरी हो चुकी है। जबकि आठ लोगों की निगरानी चल रही है।

एयरपोर्ट पर मेडिकल परीक्षण करने के बाद बुलंदशहर पहुंचने पर भी इनका पैनल में चेकअप किया गया। वहीं, स्वास्थ्य अफसरों द्वारा प्रतिदिन चीन की ओर से आए लोगों से फोन पर वार्ता की जा रही है। इसके बाद रिपोर्ट बनाकर केन्द्र सरकार को भेजी जा रही है। सीएमओ डॉ. केएन तिवारी ने बताया कि अब तक जिले में 10 लोग चीन से आए है। जिनका मेडीकल परीक्षण के बाद घर पर कड़ी निगरानी के बीच रखा गया है। ये लोग अपने घर में ही रहेंगे। जब तक कहा नहीं जाएगा, घर से बाहर नहीं निकलेंगे। इनको 28 दिन तक निगरानी मेें रहना होगा। अभी तक किसी भी व्यक्ति में कोरोना से संबंधित लक्षण नहीं मिले है।

सीएमओ डॉ । केएन तिवारी ने बताया कि कोरोना वायरस के लक्षण का जिले में अभी कोई व्यक्ति नहीं मिला है। सुरक्षा को लेकर जिला अस्पताल में वेंटीलेटर युक्त कोरोना वार्ड बनवा दिया गया है। साथ ही जिले के सभी सीएचसी और पीएचसी प्रभारियों को अलर्ट कर दिया है।