पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद की कभी भी हो सकती है गिरफ़्तारी, कड़ी सुरक्षा में बयान के लिए कोर्ट लाई गई छात्रा

लखनऊ | स्वामी चिन्मयानंद और एसएस लॉ कॉलेज की छात्रा के मामले में धारा 164 के तहत कलमबंद बयान के लिए सोमवार को छात्रा को कोर्ट लाया गया। इस दौरान सुरक्षा काफी कड़ी रही। माना जा रहा है कि धारा 164 के तहत छात्रा के कलमबंद बयान के बाद स्वामी चिन्मयानंद पर कार्रवाई हो सकती है। बता दें कि इस केस से जुड़े अधिकतर लोगों के बयान दर्ज हो चुके हैं।

मालूम हो कि अभी तक चिन्मयानंद पर दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई है। पिछले दिनों छात्रा ने मीडिया के सामने आकर इस मामले में अपनी बात रखी थी। इसके बाद छात्रा की मेडिकल जांच कराई गई, लेकिन चिन्मयानंद पर दुष्कर्म की धारा नहीं बढ़ी। अब मामले की अगली कार्रवाई छात्रा के कोर्ट में कलमबंद बयान पर टिकी हुई है।

छात्रा के पिता ने बताया था कि धारा 164 के तहत कलमबंद बयान के बाद स्वामी की गिरफ्तारी हो सकती है। पुलिस की कार्रवाई से नाराज पिता ने एसआईटी पर पूरा भरोसा जताया है।